DA Image
21 जनवरी, 2020|12:08|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मौत के डेढ़ माह बाद सऊदी अरब से आयी युवक की लाश

रोजी रोटी की तलाश में सऊदी अरब कमाने गये कुशीनगर के खड्डा क्षेत्र के सोहरौना गांव निवासी एक युवक की लाश मौत के डेढ़ माह बाद मंगलवार को उसके घर आयी। विदेश मंत्रालय की पहल पर जब उसकी लाश घर लायी गयी तो परिवारीजनों में कोहराम मच गया।

सोहरौना गांव निवासी शिवशंकर का पुत्र नरसिंह शर्मा रोजी-रोजगार के चक्कर में 6 अगस्त वर्ष 2016 को लखनऊ से सऊदी अरब कमाने गया था। वहां वह स्मास्को सऊदी मैन पावर सर्विस नामक कंपनी में काम कर रहा था। तीन दिसंबर 2017 को नरसिंह की परिवारीजनों से बातचीत हुई। उसने अपनी पत्नी से अपनी तबीयत खराब होने की बात बताई।

उसके बाद से ही उसकी कोई खबर परिवारीजनों को नहीं मिल पा रही थी। एक पखवारे बाद 20 दिसंबर को कंपनी वालों ने छह दिसंबर को ही नरसिंह की मौत हो जाने की सूचना दी। नरसिंह के मौत हो जाने की सूचना मिलने के बाद उसकी पत्नी सुनैना अपने बच्चों नीरज, रितेश व बेटी किरन के साथ खड्डा के पूर्व चेयरमैन डा.निलेश मिश्र से मिली और आप बीती बताई। इस पर डा. श्री मिश्र ने इसकी जानकारी कुशीनगर के सांसद राजेश उर्फ गुड्डू पांडेय को दी।

सांसद ने नरसिंह की लाश स्वदेश मंगाने के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को पत्र लिखा। सारी कागजी कार्यवाही पूरी होने के बाद विदेश मंत्रालय की पहल पर डेढ़ माह बाद नरसिंह की लाश मंगलवार को सोहरौना गांव पहुंची तो पति का शव देख पत्नी और बच्चे दहाड़े मार कर रोने लगे। यह देख वहां मौजूद रहे लोगों का कलेजा दहल गया। मौके पर पहुंचे प्रधान राम प्रताप प्रजापति ने पीड़ित परिवार को हर संभव मदद देने का भरोसा दिलाया। नरसिंह की अर्थी जब गांव से निकली तो लोगों की आखें नम हो गयीं।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Dead body of a man from Saudi Arabia one and a half months after death