DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जानलेवा है नालों पर पड़े शहर के 100 से अधिक टूटे स्लैब

जानलेवा है नालों पर पड़े शहर के 100 से अधिक टूटे स्लैब

नगर निगम के जिम्मेदारों की लापरवाही से नालों पर पड़े 100 से अधिक टूटे स्लैब जानलेवा बने हुए हैं। नगर निगम के स्टोर में सिमेंट के स्लैब हैं नहीं, और पार्षद वरियता से जिम्मेदार निर्माण हो नहीं रहा है। टूटे स्लैब के चलते राहगीर रोज घायल हो रहा हैं। निगम की बेपरवाही को लेकर पार्षदों में जबरदस्त आक्रोश है।

जेल बाईपास पर मैत्रीपुरम की तरफ जाने वाली सड़क पर नाले पर बना क्रास पूरी तरह टूट चुका है। टूटे स्लैब के चलते दर्जनों स्कूली छात्र गिरकर घायल हो चुके हैं। स्थानीय निवासी नीरज श्रीवास्तव का कहना है कि मुख्यमंत्री की जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत को दो महीने गुजर चुके हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। निगम के जिम्मेदार बड़े हादसे का इंतजार कर रहे हैं। बिछिया जंगल तुलसी राम वार्ड में आधा दर्जन नालों पर बने क्रास टूट चुके हैं।

डाक विभाग के काम करने मायापति मिश्रा के आवास के सामने नाले पर रखा स्लैब टूट गया है। वहीं बिछिया निवासी अरविन्द त्रिपाठी के आवास के सामने का स्लैब भी टूट चुका है। शहर के वीआईपी वार्ड बेतियाहाता में दर्जन भर से अधिक क्रास टूटे हुए हैं। दक्षिणी बेतियाहाता में दुर्गा मंदिर रोड, हनुमानमंदिर से रूस्तमपुर रोड और हनुमान मंदिर से लोनिया टोला की तरफ जाने वाली सड़क पर नालों पर रखा स्लैब पूरी तरह टूट चुका है।

स्थानीय पार्षद विश्वजीत तिवारी सोनू का कहना है कि निगम के अधिकारियों से मांग किया गया कि पार्षद वरियता से ही स्लैब को बनवा दिया जाये। लेकिन वह फंड का रोना रो रहे हैं। जनप्रिय विहार वार्ड में भी आधा दर्जन नालों पर टूटे स्लैब जानलेवा बन गए हैं। पार्षद ऋषि मोहन वर्मा का कहना है कि निगम के अधिकारी बड़े हादसे का इंतजार कर रहे हैं। वहीं रेलवे कालोनी वार्ड की पार्षद शकुन मिश्रा का कहना है कि वार्ड में बमुश्किल 30 फीसदी क्षेत्र निगम के जिम्मे हैं। इसके बाद भी निर्माण कार्यों की अनदेखी हो रही है।

नालों पर टूटे स्लैब को लेकर शिकायत मिली है। संबंधित इंजीनियरों को प्राथमिकता के आधार पर टूटे स्लैब को बदलवाने का निर्देश दिया गया है। सप्ताह भर में शिकायतें दूर होगीं।

सुरेश चन्द्र, मुख्य अभियंता, नगर निगम

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Danger on life due to 100 broken slabs in Gorakhpur