DA Image
1 अक्तूबर, 2020|9:35|IST

अगली स्टोरी

पहले किंग वल्चर सेंटर की तैयारियां तेज, सात अक्‍टूबर को सीएम करेंगे शिलान्‍यास 

प्रदेश के पहले गिद्ध संरक्षण एवं प्रजनन केंद्र का शिलान्यास मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 7 अक्तूबर को करेंगे। लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास से ऑनलाइन होने वाले इस शिलान्यास कार्यक्रम के लिए गोरखपुर वन प्रभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। इस केंद्र का निर्माण गोरखपुर के फरेंदा क्षेत्र के भारी-बैसी गांव में 5 एकड़ में आरक्षित वन भूमि पर किया जाएगा। 15 साल के इस प्रोजेक्ट पर तकरीबन 15 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

हरियाणा के पिंजौर में बनाए गए ‘जटायु संरक्षण प्रजनन केंद्र’ की तर्ज पर इसे विकसित किया जाएगा। इस केंद्र में किंग वल्चर के संरक्षण पर ज्यादा जोर होगा। डीएफओ अविनाश कुमार के मुताबिक शिलान्यास कार्यक्रम में ऑनलाइन पीसीसीएफ वन्य जीव सुनील कुमार पाण्डेय भी शामिल होंगे। अविनाश कुमार ने बताया कि सीएम योगी आदित्यनाथ 7 अक्तूबर को ऑनलाइन शिलान्यास करेंगे। इस दिन भारी-भैंसी ग्राम में भूमि पूजन के बाद चिन्हित जमीन पर ‘जटायु (गिद्ध) संरक्षण और प्रजनन केंद्र’ का बोर्ड भी लगा दिया जाएगा। प्रदेश सरकार इस केंद्र के लिए 82 लाख रुपये की धनराशि पहले ही दे चुकी है।

इसलिए जरूरी है गिद्धों का संरक्षण
हेरिटेज फाउंडेशन के पर्यावरण कार्यकर्ता नरेंद्र कुमार मिश्र कहते हैं कि प्रकृति के सफाईकर्मी कहे जाने वाले गिद्धों की संख्या प्रदेश में लगातार घट रही है। वर्ष 2012 में प्रदेश में सिर्फ 2070 गिद्ध मिले थे, वर्ष 2017 में इनकी संख्या घट कर 1350 रह गई थी। प्रदेश में पाई जाने वाली 9 प्रजातियों में से तीन प्रमुख प्रजातियां लांग बिल्ड वल्चर यानि लम्बी चोंच वाले गिद्ध, व्हाइट बैक्ड वल्चर यानि सफेद चोंच वाले गिद्ध और राज गिद्ध विलुप्त होने की कगार पर हैं। भारतीय वन्य जीव अधिनियम की अनुसूची (एक) के तहत गिद्ध को संरक्षण प्राप्त है। 

10 वर्षों में 40 जोड़े किंग वल्चर पैदा करने का लक्ष्य
गोरखपुर वन प्रभाग द्वारा तैयार डीपीआर के मुताबिक इस जटायु संरक्षण प्रजनन केंद्र में 10 जोड़े रेड हेडेड वल्चर का संरक्षण किया जाएगा। लक्ष्य है कि अगले 8 से 10 वर्ष में 40 जोड़े रेड हेडेड व्लचर इस केंद्र से छोड़े जा सकें। शुरुआती दौर में 25 गिद्ध रखे जाएंगे। इनमें 70 फीसदी किशोरावस्था एवं 30 फीसदी एडल्ट श्रेणी के होंगे। युवावस्था में पहुंचने के लिए एक गिद्ध 4 से 5 वर्ष का समय लेता है। पहले साल केंद्र में दो ब्रीडिंग एवियरी बनाई जाएगी। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CM yogi will place first king vulture center foundation stone on 7th October