DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोरखपुर मेट्रो के लिए सीएम गंभीर, 26 को लखनऊ में बैठक

केंद्रीय वित्त मंत्रालय के प्रोजेक्ट इन्वेस्टमेंट बोर्ड (पीआईबी) से कानपुर व आगरा में मेट्रो रेल परियोजना को मंजूरी मिलने के बाद अब गोरखपुर मेट्रो रेल परियोजना को लेकर प्रदेश सरकार की कोशिशें तेज हो गई हैं। मेट्रो को लेकर 26 अगस्त को प्रमुख सचिव आवास की अध्यक्षता में लखनऊ में होने वाली बैठक के पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर में कमिश्नर व डीएम को निर्देश दिए कि गोरखपुर मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए पूरी तैयारी कर बैठक में शामिल हों।
सीएम की बैठक
- आगरा रवाना होने के पूर्व सीएम ने गोरखनाथ मंदिर में अधिकारियों के साथ की बैठक
- पीडब्ल्यूडी (एनएच) के अधिकारियों को भी गोरखपुर मेट्रो की डीपीआर देखने के निर्देश दिए
- बोले- मेट्रो एलाइन्मेंट का अध्ययन कर बदलाव करें ताकि बाद में न आए दिक्कत

सीएम ने लोक निर्माण विभाग एनएच डिवीजन के अधिशासी अभियंता एमके अग्रवाल और सहायक अभियंता संदीप शर्मा को निर्देश दिया कि वे मेट्रो की डीपीआर और प्रस्तावित रूट का अध्ययन कर लें। ताकि सड़कों के निर्माण के बीच भविष्य में संचालित होने वाले मेट्रो के कार्य में किसी तरह की बाधा न आए। पैसे की बर्बादी भी न हो। 
26 अगस्त की बैठक में लखनऊ मेट्रो रेल के एमडी समेत लखनऊ, आगरा, कानपुर, मेरठ, वाराणसी, इलाहाबाद, गाजियाबाद, नोएडा, गोरखपुर के डीएम व कमिश्नर भी शामिल होंगे। उम्मीद जताई जा रही है कि इस बैठक के बाद गोरखपुर मेट्रो के काम में और तेजी आएगी। 
सिटी बस सेवा को बनाएं चार्जिंग प्वाइंट : सीएम ने बैठक में कहा कि गोरखपुर समेत 11 शहरों में लो फ्लोर एसी इलेक्ट्रिक बसें संचालित की जाएंगी। पहले चरण में गोरखपुर को 10 बसें मिलेंगी। डीएम ने बताया कि इन सेवा के लिए दो रूट चिन्हित किए गए हैं। महेसरा ताल के पास नगर निगम की जहां डंपिंग साइट थी, वहां मेट्रो के लिए यार्ड बनाया जाएगा। वहीं पर इलेक्ट्रिक बसों की चार्जिंग के लिए प्वाइंट भी बनेगा। सीएम ने कुछ और स्थानों पर चार्जिंग प्वाइंट बनाने के निर्देश दिए।

गोरखपुर-वाराणसी फोरलेन के निर्माण में तेजी लाएं
एनएचआई के प्रबंधक जीके राव से सीएम ने गोरखपुर-वाराणसी फोरलेन के निर्माण कार्य तेज करने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने गोरखपुर-सोनौली फोरलेन पर भी अधिकारियों के साथ चर्चा की। 80 किलोमीटर के इस फोरलेन के निर्माण के लिए अब तक जमीन अधिग्रहण का काम शुरू नहीं हो सका है। 

पिपरौली में बनेगा थाना
बैठक में सीएम ने एसएसपी को पिपरौली में नए पुलिस स्टेशन के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। डीएम के कहा कि थाने के लिए जमीन का इंतजाम पिपरौली ब्लाक में ही किया जाए। बैठक में डीएम ने बताया कि गन्ना शोध संस्थान के लिए पिपराइच में किसानों से सहमति के आधार पर जमीन खरीदने के लिए सहमति पत्र लिए जा रहे हैं। 26 को जमीन की पैमाइश कर चिह्नित भी कर दी जाएगी। सीएम ने फर्टिलाइजर स्थित केंद्रीय विद्यालय भवन के नव निर्माण के लिए भी डीएम को प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CM Gambhir for Gorakhpur metro 26th meeting in Lucknow