DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आओ राजनीति करें: ‘हिन्दुस्तान की बाइक रैली में उमड़ा गोरखपुर शहर

‘हिन्दुस्तान की बाइक रैली में उमड़ा गोरखपुर शहर

‘हिन्दुस्तान के अभियान ‘आओ राजनीति करें के तहत बुधवार को दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय परिसर से ‘मतदाता जागरूकता बाइक रैली निकाली गई। भीषण गर्मी के बावजूद समाज के विभिन्न वर्गों से लोगों ने ‘हिन्दुस्तान बाइक रैली में हिस्सा लिया। बाइक रैली छात्रसंघ चौराहा, पैडलेगंज, मोहद्दीपुर, ह्वी पार्क, सीएस चौराहा, पार्क रोड, गणेश चौराहा, चेतना तिराहा, कचहरी चौराहा, शास्त्री चौराहा, आम्बेडकर चौराहा, छात्रसंघ चौराहा होत पुन: विवि परिसर में पहुंचा। बाइक रैली में शामिल लोगों द्वारा लगाए जा रहे...पहले मतदान फिर जलपान, ...आओ सब मिलकर गाएं, हम वोट देने जरूर जाएं, ...लोकतंत्र की सुनो पुकार, मत खोना अपना मताधिकार, आदि नारों से इलाका गूंजता रहा।

‘हिन्दुस्तान के अभियान ‘आओ राजनीति करें के तहत बुधवार को डीडीयू परिसर से मतदाता जागरूकता के लिए निकाली गई बाइक रैली को ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रथमेश कुमार ने झंडी दिखाकर रवाना किया। बाइक रैली में छात्रों, नौजवानों और समाज के विभिन्न वर्गों से शामिल लोगों में बड़ी संख्या में महिलाएं भी थीं। बाइक रैली जिधर से गुजरी, सड़क की दोनों पटरियों पर खड़ी भीड़ भी बाइक सवारों द्वारा लगाए जा रहे नारे...पहले मतदान फिर जलपान को आवाज देती रही।

बाइक रैली शाम 4 बजे से निकलनी थी। दोपहर बाद से ही लोग विश्वविद्यालय परिसर में जुटने लगे। छात्र-छात्राएं, अधिवक्ता, चिकित्सक, शिक्षक, अधिकारी-कर्मचारी और बड़ी संख्या में व्यापारी अपनी-अपनी बाइक से पहुंचे। ‘हिन्दुस्तान से उपलब्ध कराई गई टोपी सभी ने लगाई और मतदाता जागरूकता के लिए नारे लिखी तख्तियां भी लोगों ने बाइक के आगे बांध ली। चिलचिलाती धूप से बेपरवाह लोग विवि के खेल मैदान में कतारबद्ध होकर खड़े हुए। सबसे पहले ट्रैफिक पुलिस की गाड़ी, खुली जीप में तख्तियां लिए लोग, इसके बाद मतदाता जागरूकता को ध्यान में रखकर सजाई गई गाड़ी फिर स्कूटियों पर महिलाएं-छात्राएं और फिर बाइक सवार समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों को हुजूम था। दोनों बगल तकरीबन दो दर्जन पुलिसकर्मी बाइक से चल रहे थे।

मतदाता जागरूकता बाइक रैली को पुलिस और प्रशासन का भी खूब सहयोग मिला। बाइक रैली निकली तो आगे-आगे ट्रैफिक पुलिस की गाड़ी बढ़ती जा रही थी और पीछे-पीछे काफिला चलता जा रहा था। सबसे बड़ी बात थी कि छात्रसंघ चौराहे पर पहुंची तो ट्रैफिक पुलिस ने ट्रैफिक रोक दिया। बाइक रैली में शामिल लोग ...पहले मतदान फिर जलपान, ...आओ सब मिलकर गाएं, हम वोट देने जरूर जाएं, ...लोकतंत्र की सुनो पुकार, मत खोना अपना मताधिकार, के नारे लगा रहे थे। ट्रैफिक रोके जाने की वजह से जो जहां था वहीं से इन नारों को आवाज देने लगा। बाइक रैली यहां से पैडलेगंज, मोहद्दीपुर, गणेश चौराहा, कचहरी चौराहा और आम्बेडकर चौराहा तक पहुंचा। बाइक रैली को गुजारने के लिए ट्रैफिक पुलिस कुछ-कुछ देर के लिए लोगों को रोकती रही। लोग रैली में शामिल लोगों की आवाज को समर्थन देते रहे। भीड़ भी बाइक रैली में लग रहे नारों को आवाज देती रही। लोग यह अहसास दिलाते रहे कि वे भी लोकतंत्र के महापर्व को शत-प्रतिशत सफल और आकर्षक बनाने के लिए ‘हिन्दुस्तान के अभियान के साथ हैं।

बाइक रैली आम्बेडकर चौराहे से आगे बढ़ा और पुन: छात्रसंघ चौराहा होते हुए विश्वविद्यालय के खेल मैदान पर पहुंच गया। ‘हिन्दुस्तान द्वारा मैदान में लोगों के लिए पानी की व्यवस्था की गई थी। भीषण गर्मी में बाइक रैली से पहुंचे लोगों ने कहा कि ‘हिन्दुस्तान के इस एक और अभियान ने यह साबित किया जनसरोकारों को लेकर ‘हिन्दुस्तान हमेशा आगे रहता है। पूर्व महापौर डा.सत्या पांडेय ने कहा कि हिन्दुस्तान के इस अभियान का मतदाताओं पर अच्छा असर पड़ेगा। डा. संजीव गुलाटी और डा. रूप कुमार बनर्जी ने कहा कि मतदाता जागरूकता के लिए अच्छी पहल हुई। रणजीत राय बडे, नीरज शाही, विशाल गुप्ता, रीतेश सिंह बब्बू, शरद सिंह, गरिमा शाही, सुनिशा श्रीवास्तव ने कहा कि लोकतंत्र के महापर्व के लिए यह अभियान असरदार साबित होगा। विनोद राय व सुमित ने भी रैली की सराहना की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:City assembled in Bike railly in Gorakhpur