DA Image
30 नवंबर, 2020|1:23|IST

अगली स्टोरी

सेटेलाइट तस्वीरों से पराली जलाने वाले किसान चिंहित, मुकदमा

गोला क्षेत्र में किसानों को पराली जलाना महंगा पड़ गया। कृषि विभाग के निगरानी तंत्र ने सेटेलाइट तस्वीरों के आधार पर कार्रवाई की है। गांवों में पहुंचे कृषि विभाग के कर्मचारियों की टीम के जांच की तो पराली जलाने की घटना सही निकली। जिसके बाद दोषियों के खिलाफ थाने में धारा 188, 278, 290, 291 के तहत मुकदमा किया गया।

गुरुवार को कृषि विभाग के कर्मचारियों को उच्चाधिकारियों ने सूचना दी कि क्षेत्र के पकड़ी, गोड़सरी व पतरा गांव में बुधवार की रात में किसानों ने अपने खेतों में पराली जलाया है। जिसके बाद विभाग के कर्मचारियों की टीम गांव पहुंची और पराली जलाने की घटना सही साबित हुई। टीम ने पतरा गांव के किसान रमाशंकर शर्मा, गोड़सरी के किसान राधे व पकड़ी के किसान सुरेंद्र नारायण शुक्ल को चिह्नत कर एसडीएम राजेंद्र बहादुर को रिपोर्ट दिया और वरिष्ठ प्राविधिक सहायक अरुणाकर सिंह ने पतरा व गोड़सरी के किसान के खिलाफ गोला थाने में व पकड़ी के किसान के खिलाफ गगहा थाने में मुकदमा पंजीकृत कराया। उन्होंने किसानों से अपील की कि किसी भी हालत में पराली न जलाएं। उसे खेत में पलटकर जैविक खाद बनावें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Chinhit a farmer who burnt stubble with satellite photos sued