DA Image
16 सितम्बर, 2020|12:37|IST

अगली स्टोरी

नौकरी के नाम पर जालसाज ने चार लोगों से 35 लाख हड़पे, दे दिए फर्जी नियुक्‍त पत्र 

in the name of selling sealing land in bareilly cheating on a woman

गोरखपुर के पीपीगंज थाना क्षेत्र के एक गांव के रहने वाले जालसाज ने चार लोगों को शिकार बनाया था। उसने चार युवकों से नौकरी के नाम पर पैतीस लाख रुपये की जालसाजी की थी। पीपीगंज पुलिस अभी जांच कर रही थी कि पता चला कि जालसाजी के एक मामले में कानपुर पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है। 

पीपीगंज थाना क्षेत्र के तिघरा निवासी मोनू सिंह तथा गोरखपुर बसन्तपुर गीता प्रेस की सबिना खातुन सहित चार लोगों से पीपीगंज के जंगल विहुली टोला रामनगर रहने के वाले जालसाज ने 8.75 हजार रुपये के हिसाब से चारों से करीब 35 लाख रुपये नौकरी के नाम पर ले लिए। सचिवालय में नौकरी के लिए संविदा का नियुक्ति पत्र दिया लेकिन युवक जब नौकरी ज्वाइन करने पहुंचे तो पता चला कि नियुक्ति पत्र फर्जी है। वहां से वापस आने के बाद जालसाज ने युवकों से जल्द से जल्द पैसा वापस करने की बात कही लेकिन बाद में मोबाइल बंद कर लापता हो गया। परेशान होकर पीड़ितों ने पीपीगंज थाने में शिकायत की है।

पुलिस को दी तहरीर में उन्होंने बताया कि करीब तीन साल पहले नौकरी के नाम पर रुपये दिए थे। जब नौकरी नहीं मिली तो हम सभी लोगों ने जालसाज की तलाश शुरू की और उसके घर पहुंचे तो वह फरार हो गया। शिकायत के बाद पीपीगंज पुलिस हरकत में आई और जलसाज के न मिलने पर उसके भाई को मंगलवार को थाने पर बुलाया तो पता चला कि कानपुर पुलिस ने उसे किसी जालसाजी के मामले में गिरफ्तार किया है। पीपीगंज थानाध्यक्ष राजेन्द्र मिश्रा का कहना है की जालसाज की तलाश की जा रही थी इस बीच पता चला है कि जालसाजी के मामले में ही उसे कानपुर में गिरफ्तार किया गया है। कानपुर पुलिस से सम्पर्क कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:cheated 35 lakh on the name of jobs gave fake appointment letters