DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  गोरखपुर  ›  वाराणसी हाईवे के दो लेन जुलाई तक हर हाल में बनाएं : योगी
गोरखपुर

वाराणसी हाईवे के दो लेन जुलाई तक हर हाल में बनाएं : योगी

हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 05:32 AM
वाराणसी हाईवे के दो लेन जुलाई तक हर हाल में बनाएं : योगी

गोरखपुर। मुख्य संवाददाता

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर-वाराणसी हाईवे के दो लेन का निर्माण कार्य जुलाई पूरा करने का निर्देश दिया। निर्माण में विलम्ब के लिए परियोजना निदेशक को फटकार भी लगाई। कहा कि किसी भी योजना में धन की कमी नहीं है, न आने दी जाएगी लेकिन परियोजना को निर्धारित अवधि में पूर्ण किजिए। मंडलायुक्त को सभी योजनाओं की निगरानी करने का निर्देश भी दिया।

मुख्यमंत्री बुधवार की शाम अधिकारियों के साथ विकास परियोजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने सभी निर्माण कार्यों को गुणवत्ता के साथ समय से पूरा करने के निर्देश दिए। वाराणसी हाईवे की समीक्षा के दौरान उन्हें बताया गया कि 15 किलोमीटर तक दो लेन का निर्माण शेष बचा है। परियोजना निदेशक ने अक्तूबर तक इसे पूरा करने की बात कही, इस पर मुख्यमंत्री नाराज हो गए। उन्होंने कहा कि किसी भी हाल में जुलाई तक इस काम को पूरा कराएं।

सीएम ने मोहद्दीपुर-जंगल कौड़िया मार्ग और असुरन से मेडिकल कालेज रोड पर नाला निर्माण काम जल्द पूर्ण करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि बारिश में लोगों को दिक्कत हो रही है। सड़क से मिट्टी और मलबा हटाएं। मुख्यमंत्री ने गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे की प्रगति की जानकारी ली और मुआवजे संबंधी कार्य भी जल्द पूर्ण किए जाए। मुख्यमंत्री ने मंडलायुक्त को निर्देश दिये कि सभी निर्माण कार्यों की निगरानी करें। उन्होंने चताया कि विभाग समन्वय बना कर कार्यों को समय से पूरा करें, न कि एक-दूसरे पर जिम्मेदारी डाले। धन की समस्या है तो बताएं। धन की कमी नहीं होने दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने जीडीए के कार्यो की भी समीक्षा की। बताया गया कि महंत दिग्विजयनाथ पार्क में तीन माह के भीतर नई प्रतिमा लगा दी जाएगी। इसके लिए नया प्लेटफार्म तैयार कराया जा रहा है। पटरी व्यवसायियों के लिए जीडीए वेंडिंग जोन योजना पर काम शुरू कर चुका है। सीएम ने कहा कि टीका हर दिन ज्यादा से ज्यादा लोगों को लगाने का लक्ष्य निर्धारित करें। टीके की कोई कमी नहीं है। ग्रामीण क्षेत्रों में भी क्लसटर बना टीकाकरण किया जाए।

सभी सीएचसी-पीएचसी को बनाए आधुनिक

मुख्यमंत्री ने सभी सीएचसी-पीएचसी को आधुनिक बनाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि कोरोना के अलावा अन्य बीमारियों से पीड़ित लोगों को वहीं इलाज मिलना चाहिए। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए इन कार्यो को जल्द पूर्ण करने पर जोर दिया।

शहर से लेकर गांव तक सैनेटाइजेशन का रखे ध्यान

मुख्यमंत्री ने कहा कि इंसेफेलाइटिस और कोरोना की रोकथाम के लिए साफ-सफाई एवं सैनिटाइजेशन पर ध्यान दिया जाए। शहर से गांव तक इन कार्यों पर जोर होना चाहिए। यदि कोई बच्चा इन बीमारियों से ग्रसित मिलता है तो उसे तत्काल स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराएं। नगर आयुक्त एवं सीडीओ को साफ सफाई पर जोर देने का निर्देश दिया।

संबंधित खबरें