DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पहली बार नाटक के रूप में लिखी गई बाबा गोरखनाथ की कहानी

पहली बार नाटक के रूप में लिखी गई बाबा गोरखनाथ की कहानी

सिद्ध महायोगी गुरु गोरखनाथ की महिमा को दर्शाता आपार साहित्य भण्डार मौजूद हैं। अब रंगमंच के माध्यम से पहली बार गुरु गोरखनाथ की कहानी मंच पर प्रदर्शित होगी। गोरखपुर शहर का नाम बाबा गोरखनाथ के नाम से ही पड़ा और उनके जीवन को दर्शाता पहला नाटक भी गोरखपुर में ही लिखा गया है।

विराट विश्वकर्मा, मां दुर्गा से काली और बुद्धम जैसे नाटकों का लेखन व निर्देशन करने वाले सुनील राजा ने गुरु गोरखनाथ को समर्पित नाटक ‘महिमा गोरखनाथ की शीर्षक से लिखा है। नाटक को पूरी भव्यता के साथ मंचित किया जायेगा। जिसमें गुरु गोरखनाथ की जीवन यात्रा के साथ ही उनकी जिन्दगी के प्रचलित प्रसंगों को दर्शाया गया है। इसके साथ ही आध्यात्मिक गीत और संगीत के साथ नाटक को भव्यता प्रदान की जा रही है। नाटक का निर्देशन भी लेखक सुनील राजा कर रहे हैं और संगीत केके श्रीवास्तव दे रहे हैं। नाटक का मंचन माटी संस्थान की ओर से किया जायेगा।

बहुत पहले लिखा जाना चाहिये था नाटक

‘महिमा गोरखनाथ की नाटक को लिखने को वाले सुनील राजा ने कहा कि ये विडम्बना ही है कि बाबा गोरखनाथ जैसे सिद्ध संत की कहानी से रंगमंच अब तक अछूता है। बहुत पहले ही रंगमंच पर बाबा गोरखनाथ की कहानी का मंचन हो जाना चाहिए था। खैर खुशकिस्मत हूं कि ये काम करने का गौरव मुझे मिल रहा है। सुनील ने बताया कि बाबा गोरखनाथ की कहानी का आधार मुख्य रूप से मैंने पृथ्वीराज रचित ‘गोरख महापुराण को बनाया है। इसके साथ ही अन्य माध्यमों पर रिसर्च कर कहानी को तैयार किया है।

इतिहास से छेड़छाड़ नहीं

लेखक सुनील राजा ने बताया ‘महिमा गोरखनाथ की नाटक की विषयवस्तु को कई बार जांचा गया है। कोई भी प्रसंग ऐसा नहीं है, जिसे इतिहास से छेड़छाड़ बताया जाये। बेहद सतर्कता के साथ कहानी को तैयार किया गया है। वैसे बाबा गोरखनाथ के जीवन को एक किताब, एक नाटक और एक फिल्म में दिखा पाना बहुत ही मुश्किल है।

संजू राज निभायेंगे मुख्य भूमिका

नाटक ‘महिमा गोरखनाथ की में बाबा गोरखनाथ की मुख्य भूमिका संजू राज खान निभायेंगे। इससे पहले संजू नाटक रश्मि रथी में दुर्योधन, विराट विश्वकर्मा में भगवान विष्णु, बुद्धम में बुद्ध की भूमिका के साथ ही सौ से अधिक भूमिकाएं सफलता के साथ निभा चुके हैं। इसके साथ ही नाटक में बाबा गोरखनाथ के बाल्यकाल की भूमिका बाल कलाकार अनुभव विश्वकर्मा निभायेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Baba Gorakhnath story written as play first time in Gorakhpur