ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश गोरखपुरआनंदनगर-घुघली रेल लाइन प्रोजेक्ट को मिली रफ्तार, भूमि अधिग्रहण जल्द

आनंदनगर-घुघली रेल लाइन प्रोजेक्ट को मिली रफ्तार, भूमि अधिग्रहण जल्द

-71.5 हेक्टेयर जमीन के अधिग्रहण के लिए प्रारंभिक अधिसूचना जारी -52.70 किमी. लंबी...

आनंदनगर-घुघली रेल लाइन प्रोजेक्ट को मिली रफ्तार, भूमि अधिग्रहण जल्द
default image
हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरWed, 12 Jun 2024 03:00 AM
ऐप पर पढ़ें

गोरखपुर, मुख्य संवाददाता।
केंद्र में नई सरकार के गठन के साथ ही आनंदनगर-घुघली वाया महराजगंज रेल लाइन के प्रोजेक्ट में तेजी आ गई है। इस क्रम में 20 गांवों की 71.5 हेक्टेयर जमीन के अधिग्रहण के लिए प्रारंभिक अधिसूचना जारी कर दी गई है। आपत्तियां मांगी गई हैं, जल्द ही अंतिम अधिसूचना भी जारी कर दी जाएगी। घुघली वाया महराजगंज नई रेल लाइन जिले के 53 गांव से गुजरेगी। इसके लिए रेलवे कुल 194 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहीत होनी है।

रेलवे मंत्रालय ने पीएम गतिशक्ति योजना के तहत पूर्वोत्तर रेलवे की नई रेल लाइन आनन्दनगर-घुघली वाया महराजगंज को स्वीकृति प्रदान की है। 52.7 किलोमीटर लंबी इस रेल लाइन के लिए 958.27 करोड़ रुपये की मंजूरी मिली है। यह नई रेल लाइन आनन्दनगर से महराजगंज होते हुए घुघली रेलवे स्टेशन जाएगी। आनंदनगर पहले ही जंक्शन है। इस रेल लाइन के बाद घुघली स्टेशन को भी जंक्शन बनाया जाएगा।

बेहतर होगी कनेक्टविटी, लघु कृषि उद्योग को भी मिलेगा बढ़ावा

इस नई रेल लाइन से इंडो-नेपाल बॉर्डर के सीमावर्ती जिला महराजगंज का विकास होगा। कृषि बाहुल्य क्षेत्र होने के कारण लघु कृषि उद्योग को भी बढ़ावा मिलेगा। यह रेल लाइन महराजगंज को भी बेहतर कनेक्टिविटी देगी। जिले की सीमा से दो रेल लाइन गुजरी हैं लेकिन जिला मुख्यालय रेलवे से नहीं जुड़ा था। लंबे अर्से से इसकी मांग की जा रही थी। यह लाइन बनने से उत्तर भारत से आने वाली ट्रेनों को पूर्वोत्तर के राज्यों को एक वैकल्पिक मार्ग उपलब्ध होगा व गोरखपुर जंक्शन स्टेशन पर यातायात का दबाव कम होगा। इस रेल लाइन के निर्माण के बाद पनियहवा से लेकर गोंडा तक की दूरी 42 किलोमीटर कम हो जाएगी। अभी गोंडा से पनियहवा वाया आनन्दनगर, गोरखपुर, गोरखपुर कैंट, घुघली होते हुए कुल दूरी 307 किलोमीटर है, जो घटकर 265 किलोमीटर रह जाएगी। इस प्रोजेक्ट में सिविल कार्य के लिए 875.30 करोड़ रुपये, सिग्नल व टेलीकॉम कार्य के लिए 18.17 करोड़ और इलेक्ट्रिकल कार्य के लिए 64.26 करोड़ रुपये मंजूर हुए हैं।

नौ बड़े, चौदह छोटे पुल बनेंगे

आनंदनगर-घुघली वाया महराजगंज नई रेल लाइन विद्युतीकृत होगी। इस लाइन पर नौ बड़े और चौदह छोटे पुल बनाए जाएंगे। रेलवे के मुताबिक इस रेल लाइन पर कुल सात स्टेशन होंगे। इसमें आनंदनगर, महराजगंज एवं घुघली क्रॉसिंग स्टेशन होगा। इसके अलावा परसिया बुजुर्ग, पकड़ी नौनिया, शिकारपुर व पिपरा मुंडेरी में हाल्ट स्टेशन बनाए जाएंगे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।