A bribe daroga was sent to jail for imposing FR - एफआर लगाने के लिए घूस लेने वाला दरोगा भेजा गया जेल DA Image
12 दिसंबर, 2019|12:11|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एफआर लगाने के लिए घूस लेने वाला दरोगा भेजा गया जेल

एफआर लगाने के लिए घूस लेने वाला दरोगा भेजा गया जेल

घूस लेते रंगे हुए गिरफ्तार किए गए दरोगा मनीष मिश्रा को पुलिस ने शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया। एंटी करप्शन की टीम ने गुरुवार की देर शाम उसे 40 हजार रुपये लेते यातायात कार्यालय तिराहे के पास से गिरफ्तार करने के बाद कैंट थाने में केस दर्ज करा कैंट पुलिस के हवाले कर दिया था।

बेलघाट क्षेत्र के सुअरहा निवासी विनोद कुमार ने इस साल 26 मई को गांव के ही कुछ लोगों के खिलाफ घर में घुसकर मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया था। बाद में इस मामले में आरोपित जीतेंद्र की पत्नी निर्मला ने कोर्ट से आदेश कराकर विनोद और उनके भाइयों विजय व राधेश्याम के खिलाफ घर में घुसकर मारपीट करने और इसकी वजह से गर्भपात हो जाने का मुकदमा बेलघाट थाने में दर्ज करा दिया। कोर्ट के आदेश पर दर्ज मुकदमे की विवेचना वहां तैनात दारोगा आशीष मिश्र कर रहा था।

आरोप है कि कुछ दिन पहले दरोगा ने मुकदमे में फाइन रिपोर्ट लगाने के लिए विनोद के भाई अजय कुमार से डेढ़ लाख रुपये की मांग की। बातचीत के बाद 80 हजार रुपये में सौदा तय हुआ। दरोगा ने पेशगी के 40 हजार रुपये लेकर अजय को गुरुवार को गोरखपुर बुलाया था। इससे पहले ही अजय ने एंटी करप्शन विभाग में शिकायत कर दी थी। गुरुवार की शाम को यातायात कार्यालय के पास अजय से रुपये लेते समय एंटी करप्शन की टीम ने दरोगा को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। उसे विशेष न्यायाधीश भ्रष्टाचार निवारण प्रथम, नरेंद्र कुमार सिंह के आदेश से न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:A bribe daroga was sent to jail for imposing FR