DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीआरडी के शिशु गहन चिकित्सा कक्ष में 40 नर्सो की जरूरत

BRD Medical College

बीआरडी मेडिकल कालेज के शिशु गहन चिकित्सा कक्ष(एनएनयू) में मरीजों की भारी संख्या के कारण कर्मचारियों की मुसीबत बढ़ गई है। एक शिफ्ट में एक नर्स 20 से अधिक नवजातों की तीमारदारी कर रही है। काम दबाव से परेशान नर्सें अब वार्ड में ड्यूटी करने से तौबा कर रही हैं। बीते एक पखवारे से वार्ड में तैनात भूतपूर्व सैनिक कल्याण निगम की छह नर्सें ड्यूटी करने नहीं आ रही हैं। जिसके बाद उन्हें नोटिस जारी किया गया है।  
बीआरडी मेडिकल कालेज
काम के दबाव से अवकाश ले रही नर्से
भूतपूर्व सैनिक कल्याण की 6 नर्सों को मिला नोटिस

बालरोग विभाग के अधिकारियों के मुताबिक एनएनयू में इस समय रोजाना औसतन 130 से 150 नवजात भर्ती रह रहे हैं। मरीजों की बढ़ती संख्या के सापेक्ष नर्सों की संख्या एक तिहाई ही है। अधिकारियों ने अस्पताल प्रशासन ने 40 नर्सों की मांग की थी। उन्हें सैनिक कल्याण निगम की एक दर्जन नर्सें ही मिली। इनमें से छह नर्से 29 सितंबर से ड्यूटी से नदारद हो गई। इसकी शिकायत वार्ड 100 के प्रभारी डॉ. भूपेन्द्र शर्मा ने प्राचार्य से की। जिसके बाद प्राचार्य ने नर्सों को नोटिस जारी कर दिया है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:40 nurses in BRDs infantile intensive care cell