ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश गोरखपुर35 ट्रेनों को मिले ठहराव के 40 नए ठिकाने, जानिए उनके नाम

35 ट्रेनों को मिले ठहराव के 40 नए ठिकाने, जानिए उनके नाम

गोरखपुर। वरिष्ठ संवाददाता बीते छह महीने में 35 ट्रेनों को 40 नए स्टेशनों का...

35 ट्रेनों को मिले ठहराव के 40 नए ठिकाने, जानिए उनके नाम
हिन्दुस्तान टीम,गोरखपुरTue, 27 Feb 2024 11:45 AM
ऐप पर पढ़ें

गोरखपुर। वरिष्ठ संवाददाता
बीते छह महीने में 35 ट्रेनों को 40 नए स्टेशनों का स्टापेज मिला है। नए स्टापेज बढ़ जाने से जहां एक तरफ यात्रियों को सहूलियत हुई है वहीं इन ट्रेनों की औसत में दो से तीन फीसदी की गिरावट हुई है। रेलवे का कहना है कि जो भी नए स्टापेज दिए गए हैं वह यात्रियों के डिमांड पर है। सभी ठहराव प्रायोगिक तौर पर दिए गए हैं। अगर आगे चलकर यात्रियों की संख्या ऐसे स्टेशनों पर कम रहती है तो ठहराव खत्म कर दिए जाएंगे।

जिन प्रमुख ट्रेनों को नए ठहराव दिए गए हैं उनमें पूर्वांचल, आम्रपाली, शालीमार, गोदान, क्लोन और मौर्या एक्सप्रेस शामिल हैं। गोदान और पूर्वांचल को सुरेमनपुर, शालीमार को बेल्थरा, मौर्या को जीरादेई और क्लोन को सीवान पर स्टापेज दिया गया है।

यात्रियों के डिमांड पर बढ़े स्टापेज

पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन का कहना है कि यात्रियों के डिमांड को देखते हुए स्टापेज बढ़ाए गए हैं। ये सभी स्टापेज छह महीने के लिए हैं। टिकटों की बिक्री और यात्रियों की संख्या मानक के हिसाब से रहीं तो आगे चलकर उन्हें विस्तार दिया जाएगा।

लम्बे समय से सीवान में क्लोन एक्सप्रेस के ठहराव की चल रही थी मांग

सहरसा से नई दिल्ली जाने वाली क्लोन एक्सप्रेस के लम्बे समय से सीवान में स्टापेज की मांग चल रही थी। दरअसल से बिहार के सीवान से दिल्ली जाने यात्रियों की संख्या काफी अधिक है। ऐसे में कई दिनों से यहां स्टापेज की मांग चल रही थी। स्टापेज बढ़ने से यात्रियों की संख्या में 7 से 8 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी भी हुई है।

औसत रफ्तार पर मामूली असर

ट्रेनों के स्टापेज बढ़ने से इनके औसत रफ्तार पर भी मामूली सा असर पड़ा है। स्टापेज बढ़ने से एक ट्रेन की औसत चाल पहले से एक से दो फीसदी तक कम हो गई है।

इन प्रमुख ट्रेनों का बढ़ा स्टापेज

-कटिहार-अमृतसर आम्रपाली एक्सप्रेस

-सहरसा-नई दिल्ली क्लोन एक्सप्रेस

-गोरखपुर-हटिया मौर्या एक्सप्रेस

-गोरखपुर-कोलकाता पूर्वांचल एक्सप्रेस

-गोरखपुर-शालीमार, शालीमार एक्सप्रेस

-गोरखपुर-एलटीटी गोदान एक्सप्रेस

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें