DA Image
8 मई, 2021|7:03|IST

अगली स्टोरी

नेपाल में भारतीय सीमा पर बसाए गए 20 रोहिंग्या परिवार

Rohingya Muslims

भारतीय सीमा के पास नेपाल में 20 रोहिंग्या बसाए गए हैं। इन्हें काठमांडू से लाकर सीमा के पास रुपन्देही जिले में बसाया गया है। इन्हें नेपाल के कुछ गुटों से फंडिंग भी की जा रही है। इस सूचना पर भारतीय खुफिया सुरक्षा एजेंसियां चौकन्ना हो गई हैं। एजेंसियां सीमावर्ती क्षेत्र में रोहिंग्या परिवारों की हर गतिविधि पर नजर रख रही हैं।
भारत में एनआरसी और सीएए को लेकर सख्ती के चलते घुसपैठ पर रोक लगी तो रोहिंग्या सीमावर्ती नेपाल को अपना ठिकाना बना रहे हैं। खुफिया एजेंसियों के मुताबिक कुछ दिन पहले अच्छी खासी तादाद में रोहिंग्या परिवारों ने नेपाल का रुख किया। वहां काठमांडू के आसपास इन्होंने डेरा जमाया। अब हाल में उन्हें काठमांडू से लाकर भारतीय सीमावर्ती क्षेत्रों में बसाया जा रहा है। रुपन्देही में ऐसे ही 20 परिवारों को काठमांडू से लाकर बसाया गया है। इन्हें नेपाल के कुछ संगठन फंडिंग कर रहे हैं। सूत्र बता रहे हैं कि संगठनों और बिचौलियों के मदद से रुपन्देही के भारतीय सीमा से सटे क्षेत्र में इन रोहिंग्या परिवारों ने जमीनें भी खरीदी हैं। इसके अलावा ढाढिंग और लासंतूर जिलों में भी बड़ी संख्या में रोहिंग्या रह रहे हैं। सीमावर्ती क्षेत्र में रोहिंग्या परिवारों की गतिविधियां बढ़ने से खुफिया एजेंसियां सक्रिय हो गई हैं। फंडिंग की रिपोर्ट खुफिया एजेंसियों ने केंद्र को भेजी है।

नेपाल के इन जिलों में भी हैं रोहिंग्या
नेपाल के ढाढिंग जिले में रोहिंग्या के करीब 35 अस्थायी घर देखे गए हैं, जो पिछले कुछ दिनों में बने हैं। इसी तरह लासंतूर में 104 रोहिंग्या और इसी समुदाय के कुछ लोगों के पनौती जिले में भी बसने की खबर मिली है। रिपोर्ट के मुताबिक, नेपाल के कुछ संगठन रोहिंग्या को नेपाल में बसने के लिए फंड मुहैया करा रहे हैं।

इंडो नेपाल बार्डर पर है आईएसआई की नजर!
इंडो-नेपाल सीमा पर तैनात खुफिया एजेंसी के सूतों के मुताबिक रोहिंग्या की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखने की जरूरत है। पाकिस्तान की आईएसआई लंबे वक्त से भारत-नेपाल सीमा पर लश्कर और जैश जैसे आतंकी गुटों के बेस बनाने की साजिश में लगी हुई है। ऐसे में रोहिंग्या की सीमा पर बसने को हल्के में नहीं लिया जाना चाहिए। यह एक साजिश का हिस्सा भी हो सकता है। हालांकि अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:20 Rohingya families settled on Indian border in Nepal