11 Industrialists got plots in GEEDA through lottery - गीडा में लाटरी से 11 उद्यमियों को मिले भूखंड DA Image
13 नबम्बर, 2019|11:23|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गीडा में लाटरी से 11 उद्यमियों को मिले भूखंड

गीडा में लाटरी से 11 उद्यमियों को मिले भूखंड

भूमि अधिग्रहण में मुआवजे को लेकर किसानों के कोर्ट में जाने से भूखंड आंवटन में देरी को देखते हुए गीडा प्रशासन ने 11 उद्यमियों की सहमति के बाद उन्हें दूसरे स्थान पर भूखंड का आवंटन कर दिया है। बुधवार को भूखंड का आवंटन लाटरी के माध्यम से किया गया।

गीडा प्रशासन ने वर्ष 2014 में विभिन्न सेक्टरों में 250 लोगों को भूखंड का आवंटन किया था। भूमि अधिग्रहण से प्रभावित कुछ किसान गीडा के अधिग्रहण के विरोध में कोर्ट चले गए। जिसके कारण 41 आवंटियों को भूखंड पर भौतिक कब्जा नहीं प्राप्त हो सका। 41 आवंटियों में से 4 को पूर्व में ही समायोजित कर दिया गया था। शेष बचे 37 आवंटियों को गीडा ने 15 दिन पूर्व सूचना पत्र भेजकर 30 जनवरी को गीडा कार्यालय में बुलाया गया। कार्यालय में 37 आवंटी के जगह कुल 31 लोग उपस्थित हुए।

जिसमें 11 लोगों ने अपनी सहमति देकर गीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी संजीव रंजन के समक्ष भूखंड परिवर्तन के लिए लाटरी की कार्यवाही में हिस्सा लिया। अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी अशोक कुमार सिंह ने बताया कि पूर्व में आवंटित भूखंड के क्षेत्रफल में 20 फीसदी तक बढ़ोतरी कर के समायोजित करने का गीड़ा में प्राविधान है। आवंटित क्षेत्रफल से कम आवंटी अपनी इच्छा अनुसार ले सकता है। शेष आवंटियों ने उपलब्ध भूखंडों के अनुसार समायोजन कराने से मना कर दिया। वह कोर्ट के फैसले का इंतजार करेंगे।

महासचिव ने गीडा के प्रयास को सराहा

चैंबर ऑफ इंडस्ट्रीज के महासचिव प्रवीन मोदी ने बताया कि हाल ही में गीडा द्वारा किए जा रहे औद्योगिक भूखंड के आवंटन का चैंबर ने विरोध किया था। जिसका संज्ञान लेकर शासन ने गीडा को निर्देश दिया है कि पूर्व में कब्जा बाधित आवंटियों को वरीयता के क्रम में समायोजित किया जाए। गीडा का यह सार्थक प्रयास है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:11 Industrialists got plots in GEEDA through lottery