ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश गोंडावोटर पर्ची को नहीं माना जाएगा पहचान का प्रमाण

वोटर पर्ची को नहीं माना जाएगा पहचान का प्रमाण

गोण्डा, संवाददाता। चुनाव आयोग के निर्देश पर मतदाताओं की सुविधा के लिए मतदाता सूचना...

वोटर पर्ची को नहीं माना जाएगा पहचान का प्रमाण
हिन्दुस्तान टीम,गोंडाTue, 14 May 2024 10:55 PM
ऐप पर पढ़ें

गोण्डा, संवाददाता। चुनाव आयोग के निर्देश पर मतदाताओं की सुविधा के लिए मतदाता सूचना पर्ची बीएलओ के माध्यम से वितरित की जाएगी। इसको मतदाता के पहचान दस्तावेज के रूम में नहीं माना जायेगा। चुनाव आयोग आदेशानुसार लोकसभा निर्वाचन में मतदाताओं को वोट डालने के लिए मतदाता पहचान पत्र के अलावा अन्य वैकल्पिक 12 प्रकार के दस्तावेजों में से कोई भी दस्तावेज होने पर मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे।

जिला निर्वाचन अधिकारी नेहा शर्मा ने बताया है कि जो लोग अपना वोटर आईडी प्रस्तुत नहीं कर पाते व है, उन्हें अपनी पहचान के लिए वैकल्पिक फोटो पहचान दस्तावेजों में से कोई एक प्रस्तुत करना होगा। इनमें आधार कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, बैकों/डाकघरों द्वारा जारी किये गये फोटोयुक्त पासबुक, श्रम मंत्रालय की योजना के अन्तर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, एनपीआर के अंतर्गत आरजीआई द्वारा जारी किये गये स्मार्ट कार्ड, भारतीय पासपोर्ट, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, केन्द्र/राज्य सरकार/लोक उपक्रम/पब्लिक लिमिटेड कम्पनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किए ए सांसदों या विधायकों अथवा विधान परिषद् सदस्यों को जारी किये गये सरकारी पहचान पत्र, यूनिक डिसएबिलिटी आईडी (यूडीआईडी) कार्ड शामिल है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।