ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश गोंडादीवार खड़ी कर छत न डालने वालों को बचाने में जुटे अफसर

दीवार खड़ी कर छत न डालने वालों को बचाने में जुटे अफसर

गोंडा, संवाददाता। शहर के सटे ग्राम पंचायत पथवलिया के परिषदीय विद्यालय की सूरत बदलने...

दीवार खड़ी कर छत न डालने वालों को बचाने में जुटे अफसर
हिन्दुस्तान टीम,गोंडाThu, 07 Dec 2023 05:30 PM
ऐप पर पढ़ें

गोंडा, संवाददाता। शहर के सटे ग्राम पंचायत पथवलिया के परिषदीय विद्यालय की सूरत बदलने के क्रम में 2008-09 में तीन अतिरिक्त कमरों का निर्माण कराने की योजना बनी थी। तीन कमरों की दीवार बनाकर छोड़ दी गई लेकिन छत नहीं पड़ी। इस संबंध में 'हिन्दुस्तान' में बीते 25 अगस्त को खबर प्रकाशित होने पर बीएसए ने मामले की जांच का आदेश दिया था। इसके बाद इस प्रकरण को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया।

पथवलिया में लखनऊ हाईवे चंद कदम दूरी पर प्राथमिक विद्यालय स्थित है। विद्यालय में करीब 14 साल पहले तीन अतिरिक्त कक्षा कक्ष का निर्माण कराया गया था। इसके लिए दीवार खड़ी कर दी गई लेकिन छत नहीं पड़ी। स्थानीय लोगों के मुताबिक कई बार अफसरों से शिकायत की गई लेकिन मामले से जुड़े जिम्मेदारों के रसूख के आगे उनकी एक न सुनी गई। अगस्त माह में 'हिन्दुस्तान' में खबर प्रकाशित होने पर बीएसए ने बीईओ झंझरी एसपी पाठक को जांच करने का निर्देश दिया था। जांच के दौरान बीईओ को भी तीन कमरों की दीवार पर छत नहीं पड़ी मिली। तीन माह से अधिक समय बीत जाने के बाद अभी तक जांच के नाम पर अफसर कार्यवाही से बचते नजर आ रहे हैं। उनको बचाने के लिए अफसर तरह-तरह के बहाने खोजने में जुटे हैं।

कोट -

पथवलिया परिषदीय विद्यालय में तीन कमरों की बनी दीवार पर कई साल से छत नहीं पड़ी है। इस प्रकरकी की जांच बीईओ से कराई गई है। इसकी रिपोर्ट के आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। विद्यालय के सुंदरीकरण में कोई खामी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

-प्रेमचंद्र यादव, बीएसए

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें