DA Image
Saturday, November 27, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश गोंडागोण्डा-अलंकार योजना से माध्यमिक विद्यालयों की बदलेगी सूरत

गोण्डा-अलंकार योजना से माध्यमिक विद्यालयों की बदलेगी सूरत

हिन्दुस्तान टीम,गोंडाNewswrap
Thu, 28 Oct 2021 05:45 PM
गोण्डा-अलंकार योजना से माध्यमिक विद्यालयों की बदलेगी सूरत

गोण्डा। मिशन कायाकल्प के तहत प्राथमिक विद्यालयों का कायाकल्प कराने के बाद प्रदेश सरकार की ओर से अभिनव पहल करते हुए माध्यमिक विद्यालयों में प्रोजेक्ट अलंकार योजनान्तर्गत के तहत विद्यालयों का अनुरक्षण कार्य कराया जाएगा। गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में डीएम मार्कण्डेय शाही की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समिति की बैठक हुई। जिसमें जिले के 24 माध्यमिक विद्यालयों के कायाकल्प के सम्बन्ध में निर्णय लिया गया।

डीएम ने कहा कि प्रोजेक्ट अलंकार योजनान्तर्गत जिले के 24 विद्यालयों का अनुरक्षण कार्य कराया जाएगा। विद्यालय की बाउन्ड्रीवाल, छत व फर्श की मरम्मत, खिड़की-दरवाजे की मरम्मत, रंगाई-पुताई, शौचालय, पेयजल व्यवस्था, गेट की मरम्मत, दिव्यांग रैम्प की मरम्मत व निर्माण, खेल का मैदान, प्रयोगशाला निर्माण, मल्टी परपज हॉल, पुस्तकालय कक्ष, रेन वाटर हार्वेस्टिंग आदि का कार्य कराया जाएगा। समिति के सदस्य सचिव व जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि जीआईसी, जीजीआईसी, राजकीय बालिका विद्यालय गिलौली, राजकीय हाईस्कूल बस्ती इटियाथोक, राजकीय बालिका हाईस्कूल अचलनगर, राजकीय बालिका हाईस्कूल जमदरा, राजकीय बालिका हाईस्कूल पेड़ारन, अभिनव विद्यालय कंसापुर, राजकीय हाईस्कूल दौलतपुर, राजकीय बालिका हाईस्कूल सिसई टिकरिया, राजकीय हाईस्कूल मुण्डेरवा माफी, राजकीय हाईस्कूल कोल्हुआ, राजकीय हाईस्कूल मछलीगांव, राजकीय हाईस्कूल महेवा गोपाल, राजकीय हाईस्कूल टेपरा करनैलगंज, राजकीय बालिका हाईस्कूल त्योरासी परसपुर, राजकीय बालिका हाईस्कूल रांगी तरबगंज, राजकीय बालिका हाईस्कूल अकौनी बेलसर, राजकीय हाईस्कूल मधवापुर टिकरी नवाबगंज, राजकीय हाईस्कूल सोनौली मोहम्मदपुर बेलसर, राजकीय हाईस्कूल पहाड़ापुर व राजकीय हाईस्कूल लौव्वाटेपरा में अनुरक्षण कार्य होना है।

डीएम ने डीआईओएस को निर्देश दिया है कि कनवर्जन्स के सम्बन्ध में विधिवत परीक्षण करा लें और अनुमन्यता के अनुरूप कार्य कराने के लिए कार्यों का चयन कराएं। तकनीकी समिति इस बात का सत्यापन कर लें कि किस विद्यालय मेंं शासन से निर्धारित 12 पैरामीटर पर कराया जाना है। तकनीकी समिति के रिपोर्ट के आधार पर शीघ्र ही शासन को प्रपोजल भेजें जिससे शासन से बजट प्राप्त कर माध्यमिक विद्यालयों का अनुरक्षण कार्य शुरू कराया जा सके।

बैठक में सीडीओ शशांक त्रिपाठी, डीआईओएस राकेश कुमार, डीपीआरओ सभाजीत पाण्डेय, एक्सईएन पीडब्ल्यूडी खण्ड-प्रथम लालजी, जीजीआईसी व जीआईसी के प्रधानाचार्य, दिवाकर मिश्रा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें