DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  गोंडा  ›  गोण्डा-दूसरी लहर में 77 फीसदी अधिक मौतें,46 फीसदी अधिक संक्रमण
गोंडा

गोण्डा-दूसरी लहर में 77 फीसदी अधिक मौतें,46 फीसदी अधिक संक्रमण

हिन्दुस्तान टीम,गोंडाPublished By: Newswrap
Wed, 16 Jun 2021 08:10 PM
गोण्डा-दूसरी लहर में 77 फीसदी अधिक मौतें,46 फीसदी अधिक संक्रमण

गोण्डा।

कोरोना की दूसरी लहर अब अपने अंतिम पड़ाव पर है। जिले में नए केस निकलने का सिलसिला दहाई के अंको तक सिमट चुका है। नए कोरोना मरीजों से कई गुना पुराने मरीज ठीक हो रहे हैं। लेकिन यदि हम पहली लहर और दूसरी लहर में संक्रामकता और संक्रमण से हुई मौतों में तुलना करें तो दूसरी लहर पहली लहर की अपेक्षा 46 फीसदी अधिक संक्रामक ठहरती है जबकि कोरोना से मौतों के मामलें में यह आंकडा बढ कर 77 फीसदी अधिक हो जाता है।

कोरेाना की पहली लहर में जिले में पहला केस रिपोर्ट होने के बाद नए केस भी दिन ब दिन बढते रहे लेकिन कभी ऐसे हालात नहीं बने जैसा की दूसरी लहर के दौरान अपैल-मई के महीनों में जनपद ने देखे हैं। मार्च 2020 माह में लाकडाउन

लगने के बाद पहला केस रूपईडीह में रिपोर्ट होने से लेकर पहली लहर की समाप्ति माह अक्टूबर-नवम्बर 2020 तक जिले में लगभग 5100 केस रजिस्टर किए गए थे। पहली लहर में तकरीबन 57 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी। लेकिन इस बार मार्च 2021 में जिले में कोरोना का पहला केस रिपोर्ट होने के बाद पंचायत चुनावों ने संक्रमण की आग में घी डालने का काम किया। अप्रैल के बाद मई माह में जिले में सर्वाधिक केस रिपोर्ट हुए। 16 जून तक जिले में कुल संक्रमितों की संख्या बढ कर 12199 हो गई जो कि पहली लहर से 46 प्रतिशत अधिक है। जबकि पहली लहर में हुई 57 मौतें दूसरी लहर में बढ कर 253 हो गई हैं।

बुधवार को कोरोना से चार की मौत

पिछले सप्ताह लगातार दो दिनों तक मौतों का आंकड़ा शून्य रहने के बाद बीते तीन दिनों से मौतों का सिलसिला जारी है। बुधवार को कोरोना संक्रमण के कारण चार लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। इससे पहले सोमवार और मंगलवार को भी एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। जिसके साथ ही जिले में कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 253 हो गई है।

संबंधित खबरें