DA Image
28 फरवरी, 2021|3:02|IST

अगली स्टोरी

युवक की मलेशिया के जोहोरबारू में मौत, परिवार में कोहराम

युवक की मलेशिया के जोहोरबारू में मौत,  परिवार में कोहराम

गाजीपुर। वरिष्ठ संवाददाता

नंदगंज थाना क्षेत्र के देवकली ब्लाक के करखनवा देवकली ग्राम निवासी एक युवक की मलेशिया में मौत हो गई। उसके दोस्त ने परिजनों को बीमारी के चलते मौत की खबर दी लेकिन परिजनों को किसी अनहोनी की आशंका है। हालांकि युवक के मौत की खबर आते ही घर में कोहराम मच गया। परिजनों ने सैदपुर विधायक एवं विदेश मंत्री से शव घर लाने के लिए गुहार लगाई।

नंदगंज थाना क्षेत्र के देवकली करखनवां ग्राम निवासी 41 वर्षीय दिनेश चौहान मलेशिया के जोहोरबारू जनपद में स्थित एक कम्पनी में वाचमैन का कार्य करता था। उसकी कुछ दिन पहले अचानक तबियत खराब हो गयी थी। इसके बाद उसे सुल्तान पासी गोडाउन हॉस्पिटल जोहारबारू में भर्ती कराया गया था। जहां इलाज के दौरान 19 जनवरी को उसने दम तोड़ दिया। उसका शव उसी हॉस्पिटल में ही अभी सुरक्षित पड़ा है। इसकी जानकारी बंगलादेश के एक दोस्त ने फोन कर परिवार वालों को दी। मरने की सूचना मिलते ही पत्नी सुशीला देवी, मां फूला देवी, पिता कन्हैया चौहान, बड़े भाई नन्दलाल चौहान, पुत्र अनीश चौहान, पुत्री संजू चौहान, सोनाली चौहान का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है। दिनेश चौहान वर्ष 2019 के मार्च माह में मलेशिया से आया था। इसके बाद जाने से पहले अपनी पत्नी व परिवार वालों को आश्वासन देकर गया था कि आने पर अपनी पुत्री की शादी करूंगा, पर दिनेश का दिया गया यह आश्वासन अधूरा ही रह गया। एक कंपनी में लंबे समय से वाचमैन का कार्य कर अपने परिवार का भरण-पोषण करता था। उसकी पत्नी के अलावा एक पुत्र व दो पुत्रियां भी हैं, जिनपर दु:ख का पहाड़ टूट पड़ा है। उसने अपनी पत्नी से वादा किया था कि दोबारा आने पर अपनी पुत्री की शादी करेगा।

दिनेश के निधन से गांव में जहां शोक छाया है, वहीं मासती सन्नाटा भी पसरा है। वह काफी मिलनसार स्वभाव का था, जहां उसके निधन की पूरे गांव में चर्चा होती रही। उसके घर सांत्वना देने के लिए ग्रामीणों का तांता भी लगा रहा। उसे यह नहीं पता था कि जाने के बाद वह दोबारा लौट भी पायेगा कि नहीं। उसके निधन से उसके पिता व मां काफी मर्माहत हैं, वहीं परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

शव लाये जाने को लगाई गुहार

देवकली। क्षेत्र के करखनवां देवकली ग्राम निवासी 41 वर्षीय दिनेश चौहान का शव मलेशिया के सुल्तान पासी गोडाउन हॉस्पिटल जोहारबारू में सुक्षित पड़ा हुआ है। अभी तक उसे लाया नहीं जा सका है, क्योंकि परिजन उसका शव मंगलवाने में असक्षम हैं। उसके शव को लाये जाने के लिए परिजनों ने सैदपुर विधायक सुभाष पासी व विदेश मंत्री जयशंकर से गुहार लगायी गयी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Youth dies in Johorbaru Malaysia family is in turmoil