DA Image
10 अगस्त, 2020|9:07|IST

अगली स्टोरी

सुख समृद्धि के लिये महिलाओं ने की पूजा

सुख समृद्धि के लिये महिलाओं ने की पूजा

सावन माह में नगर सहित ग्रामीणों अंचलों की सैकड़ों महिलाएं रविवार की सुबह नगर स्थित पक्का घाट पर पहुंचकर स्नान कीं। इसके बाद मंगल कामना तथा सुख समृद्धि के लिये मां भगवती व शिव-पार्वती की पूजा की। गांव की सुरक्षा करने वाले डीह बाबा, सायरमाता की पूरे आस्था के साथ पुजइया की गयी। इसे लेकर महिलाओं में काफी उत्साह देखने को मिला। स्वच्छ वस्त्र धारण कर हाथ में कलश लेकर माता को धार देने के लिए बड़ी संख्या में महिलाएं सायर माता के स्थान पर जुटी रहीं। गीत गाये गये, फिर पुजई के लिए कलश यात्रा निकाली गयी, जो पूरे गांव का भ्रमण करने के बाद गांव के पूज्य स्थान पर झंडी गाड़कर पूजन-अर्चन किया गया। इसके बाद महिलाओं का समूह पुन: सायरमाता के दरबार में पहुंचकर पूजा की। इससे पूरा वातावरण भक्तिमय बना रहा। महिलाओं ने अपने व परिवार के सुख-समृद्धि की कामना कीं। नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों की सैकड़ों महिलाएं दुर्गा चौक स्थित दुर्गा मंदिर, काली मंदिर, कपूरा घाट मंदिर सहित आदि मंदिरों में पहुंचकर पूजन अर्जन की।

काली मां की आराधना कर सुरक्षा की कामना

देवकली। सावन मास में ग्रामीण अंचलों में दैवी आपदा से सुरक्षा के लिए देवस्थल पर पूजन-अर्चन किया गया। मां काली के मंदिर पर रविवार को पियरी कङहिया, नारियल, चुनरी, धार, फूल चढाकर गांव की महिलाओं ने सामूहिक रूप से हवन-पूजन किया। डीह बाबा के स्थान पर धार पीठार चढ़ाकर दैवीय आपदाओं से सुरक्षा के लिए आर्शीवाद मांगा। इस मौके पर निशा मौर्या, लक्ष्मी देवी, उर्मिला कुशवाहा, सेजल, गीता देवी, शांति मौर्या आदि दर्जनो महिलाओं ने भाग लिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Women worshiped for happiness and prosperity