DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गाजीपुर: रमजान के पहले जुमे में अदा की नमाज

गाजीपुर: रमजान के पहले जुमे में अदा की नमाज

रमजान के पहले जुमे के दिन शुक्रवार को नगर व क्षेत्र के मस्जिदों में नमाज पढ़ने वालों की काफी भीड़ थी। नमाज पढ़ने के लिए पहले ही नमाजीयों मे काफी उत्साह का माहौल दिखाई दे रहा था। रोजे में मुसलमानों के लिये जुमे के दिन नमाज का खास अहमियत रखता है। जिसमे जुमे की नमाज के बाद जामा मस्जिद एमाम के साथ सभी नमाजियों ने दोनों हाथ उठाकर आपसी मिल्लत और देश में अमन चैन की दुआ मांगी। रमजान शरीफ में पड़ने वाले जुमे के दिन इसकी रौनक ही कुछ और ही है। इस बार बाजार के जमा मस्जिद में जुमे की नमाज पढ़ने वालो संख्या काफी रही। रमजान शरीफ का पहला जुमा होने के कारण वक्त से पहले मुस्लिम इलाकों में चहल पहल और रौनक बढ़ने लगी थी। क्षेत्र तथा आसपास ग्रामीण इलाके में जुमे की नमाज अदा करने के लिए चारों तरफ से बच्चों के साथ लोग मस्जिदों का रुख करते हुए दिखे। जिसके कारण मस्जिदों मे काफी भीड़ रही। रमजान के इस पाक महीने में बड़े बुजुर्ग के साथ ही युवाओं और बच्चों में भी जुमे की नमाज पढ़ने के लिए काफी उत्साह देखते बन रहा था। उधर घरों में महिलाओं ने भी जुमे की नमाज अदा की, साथ ही कुरान शरीफ की तिलावत में भी जुटी रही है। पहले जुमे में तकरीर करते हुए बाजार के जामा मस्जिद के इमाम हाफिज नदीम कमर ने बताया की रहमत व वरकत का महिना है रमजान। रमजान का महिना अल्लाहताला का दिया हुआ एक तोहफा है। इस महिने में सच्चे दिल से रोजा रखने वालो की हर गलतियों को अल्लाहताल्ला माफ कर देता है। इसलिए मुसलमानों के लिए रमजान का यह महिना काफी अहमियत रखता है। उन्होंने कहा है कि रमजान में मुसलमान का हर बन्दा रोजा रखकर अपने गुनाहों की माफी के लिए पांचों वक्त की नमाज पढ़कर दुआ मांगता है। साथ ही साथ दिल खोलकर खैरात जकात करता है। हदीश के अनुसार रमजान की पहली रात से ही शैतानो को कैद कर दिया जाता है और दोजख के सारे दरवाजे बन्द कर बन्दों के लिए जन्नत के दरवाजे खोल दिए जाते है। इसके अलावा बयान है कि रोजे रखकर लोगो को तमाम बुराइयों से बचना होता है। रोजा रखकर किसी की बुराई नहीं करनी चाहिए। झूठ से बचना किसी को गाली न देना और बुरी चीजो से नहीं देखे तथा पैसा का इस्तमाल सही कामो में करना चाहिए। रोजा हर मुसलमानों पर फर्ज है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Prayer prayers in Ramadan first jumay