DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › गाजीपुर › मनीष गुप्ता हत्याकांड में आरोपित सिपाहियों के घर पुलिस की दबिश
गाजीपुर

मनीष गुप्ता हत्याकांड में आरोपित सिपाहियों के घर पुलिस की दबिश

हिन्दुस्तान टीम,गाजीपुरPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 06:50 PM
मनीष गुप्ता हत्याकांड में आरोपित सिपाहियों के घर पुलिस की दबिश

गाजीपुर। वरिष्ठ संवाददाता

गोरखपुर के एक होटल में कानपुर के व्यापारी मनीष गुप्ता की हत्या के बाद आरोपितों पर इनाम घोषित करने के साथ धरपकड़ के लिए दबिश तेज कर दी गई है। मामले के आरोपित दो सिपाही गाजीपुर के रहने वाले हैं। रविवार की रात कानपुर से उनके गांव सैदपुर और नगसर में पहुंची एसआईटी टीम ने दबिश दी। हालांकि दोनों हाथ नहीं लगे। उनके परिजनों से पूछताछ की गई।

गोरखपुर हत्याकांड के छह पुलिसकर्मियों में से दो पुलिसकर्मी गाजीपुर जनपद के हैं, जिसमें से एक नगसर व दूसरा सैदपुर के भटौला गांव का मूल निवासी है। गोरखपुर कांड में कानपुर पुलिस कमिश्नर द्वारा एसआइटी के गठन किए जाने के बाद जांच व फरार आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए शुक्रवार को गोरखपुर समेत कानपुर की पुलिस सैदपुर में पहुंच गई और संभावित स्थानों पर दबिश दे रही है।

शनिवार की शाम कानपुर पुलिस घटना में शामिल आरोपित सिपाही प्रशांत कुमार के सैदपुर थाना क्षेत्र भटौला गांव स्थित आवास पर पहुंची। आरोपित के न मिलने पर उसके चचेरे भाई मनोज को पूछताछ के लिए थाना ले आई, पूछताछ के बाद मनोज को छोड़ दिया गया। वही, नगसर निवासी आरोपित सिपाही कमलेश सिंह के बारे में पुलिस ने जांच की। जब टीम गांव में पहुंची तो ग्रामीणों ने आरोपी के घर का पता तक नहीं बताया और सहयोग से इनकार कर दिया। किसी तरह पुलिस आरोपित के घर पहुंची हालांकि वह हाथ नहीं आया। कानपुर से आई टीम में दारोगा अविसार सिंह, हेड कांस्टेबल मो. अहमद, कांस्टेबल सत्यवीर के अलावा सैदपुर कोतवाल तेजबहादुर सिंह समेत स्थानीय फोर्स रही।

संबंधित खबरें