ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश गाजीपुरजमीन हड़पने के मामले में मुख्तार की हुई पेशी

जमीन हड़पने के मामले में मुख्तार की हुई पेशी

गाजीपुर, संवाददाता। सदर कोतवाली क्षेत्र के व्यापारी नेता अबू फकर खां की ओर

जमीन हड़पने के मामले में मुख्तार की हुई पेशी
हिन्दुस्तान टीम,गाजीपुरWed, 21 Feb 2024 11:30 PM
ऐप पर पढ़ें

गाजीपुर, संवाददाता।
सदर कोतवाली क्षेत्र के व्यापारी नेता अबू फकर खां की ओर से मुख्तार अंसारी, अब्बास अंसारी समेत अन्य पर दर्ज कराए गए मुकदमे में बुधवार को सीजेएम कोर्ट में सुनवाई हुई। इस दौरान बांदा जेल से मुख्तार अंसारी समेत अन्य आरोपियों को वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए पेश किया गया। कोर्ट ने मामले में चार्ज बनाने के लिए सुनवाई को 6 मार्च की तिथि तय कर दी।

सदर कोतवाली क्षेत्र के रजदेपुर रौजा निवासी व्यापारी नेता अबू फकर ने मुख्तार अंसारी समेत अन्य पर जमीन हड़पने समेत कई धाराओं में केस दर्ज कराया था। उसने आरोप लगाया था कि होमियोपैथिक कॉलेज रौजा के सामने पक्की रोड के किनारे की बेशकीमती जमीन थी। जिस जमीन पर मुख्तार अंसारी, उसकी पत्नी आफ्शां, विधायक पुत्र अब्बास अंसारी, साले अनवर शहजाद और आतिफ रजा की नजर पड़ गई। जिसके बाद मुख्तार ने लखनऊ जेल में बुलाकर धमकी देते हुए इस जमीन का बैनामा अपने बेटे अब्बास के नाम करने को कहा था। जिसके बाद मुख्तार का साले आतिफ व अनवर के साथ अफरोज उन्हें मऊ विधायक अब्बास अंसारी के घर ले गए। वहां अब्बास और उनकी मां आफ्शां ने जमीन लिखने को कहा। जिसके बाद उन्हें एक कमरे में बंद कर दिया गया। जहां अब्बास ने तमंचा सटाकर डराया-धमकाया। इसके बाद वे लोग 25 अप्रैल 2012 को रजिस्ट्री कार्यालय ले जाकर जबरदस्ती भूमि अब्बास के नाम पर बैनामा करा लिए। इस मामले में अबू फकर की तहरीर पर सदर कोतवाली में कुछ महीने पहले केस दर्ज हुआ था। इस मामले में बुधवार को सीजीएम स्वपन आनंद की कोर्ट में में मुख्तार अंसारी सहित अन्य की वीडियो कांफ्रेसिंग के जरीए पेशी हुई। अधिवक्ता कार्य से विरत रहे जिसके कारण कोर्ट ने चार्ज फ्रेम के लिए छह मार्च की अगली तिथि तय कर दी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें