DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दलों में बंटे है मगर दिलों में बसे हैं: ओमप्रकाश

पूर्व पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह

अवध पैराडाइज में आयोजित शाम-ए- हिन्दुस्तान में आयोजकों ने कवियों का हौसला अफजाई की तो फिर आने का आमंत्रण भी दिया। मुख्य अतिथि पूर्व पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह ने कहा कि गाजीपुर में कई दलों के बड़े नेता हैं मगर हममें प्यार बहुत है। कला और साहित्य को गाजीपुर में बार-बार स्वागत है।

रविवार को शाम-ए-हिन्दुस्तान का मुख्य अतिथि पूर्व पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह ने दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया। कार्यक्रम के आगाज पर उन्होंने कवियों का गाजीपुर आने के लिए आभार जताया। साथ ही कहा कि पर्यटन मंत्री रहने के दौरान कला और साहित्य को हमेशा प्रोत्साहन दिया है। कवियों ने देश का गौरव बढ़ाया है। पूर्व पर्यटन मंत्री ने कहा कि ये गाजीपुर का सौभाग्य है कि आज हमारे बीच देश के बड़े कवि सम्मेलनों के सितारे मौजूद है। इस मंच पर मौजूद कवियों को लाल किले से भी सुना है आज शहर में सुनकर गर्व का अनुभव हो रहा है।

आयोजन के लिए हिन्दुस्तान का अभार जताते हुए पूर्व मंत्री ने कहा कि यह कार्यक्रम बड़ा संदेश देगा। हिन्दुस्तान ने हमेशा नई रीति और नई नीति से काम किया है। कवि सम्मलेन भी बड़ा प्रोत्साहन है और इससे प्रेरणा लेकर वे जल्द ही बड़ा आयोजन करेंगे। 

इनकी रही खास उपस्थिति 
कवि सम्मेलन में सदर विधायक डॉ. संगीता बलवंत, वाराणसी में सपा जिलाध्यक्ष डॉ. पीयूष यादव, जीडीएम ग्रुप के डायरेक्टर गणेश दत्त मिश्रा, मंत्री प्रतिनिधि मन्नू सिंह, मशहूर कवि बादशाह राही, रवींद्र श्रीवास्तव, डॉ. मारकण्डेय सिंह, प्रभात सिंह, नवीन सिंह, एमएच के मो. खालिद, अवध पैराडाइज के पप्पू सिंह और पिंटूं सिंह मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Is divided into parties but settled in hearts Om Prakash