DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फिर सुर्खियों में गाजीपुर जेल, वार्डर से घूस लेते हेड वार्डर गिरफ्तार

हमेशा से चर्चा में रहने वाला गाजीपुर जेल एक बार फिर सुर्खियों में है। जिला जेल के वार्डर से दस हजार घूस लेते वहीं के हेड वार्डर को गिरफ्तार किया गया है। वाराणसी से पहुंची एंटी करप्शन टीम ने कार्रवाई की। हेड वार्डर को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है। कुछ दिनों पहले ही जेल से दो वीडियो वायरल हुए थे। एक वीडियो में बंदी मोबाइल पर बातें करते दिखाई दे रहे थे अौर दूसरे में दावत उड़ाते दिख रहे थे। कई बंदीरक्षकों को दोषी पाते हुए कार्रवाई भी हुई थी। 

जिला जेल में तैनात जेल वार्डर ज्ञानेंद्र पांडे ने पिछले दिनों अवकाश लिया था। उनके वेतन से अवकाश के दिनों की धनराशि काट दी गई। बाद में विभागीय स्वीकृति मिलने के बाद वेतन से कटी हुई धनराशि जारी कर दी गई लेकिन उनके खाते में नहीं आई। ज्ञानेंद्र पांडे ने हेड वार्डर श्याम नारायण को प्रार्थना पत्र देते हुए वेतन जारी करने की मांग की।

हेड वार्डर ने इसके लिए ज्ञानेंद्र पांडेय से दस हजार रुपये की रिश्वत मांगी। ज्ञानेंद्र ने रिश्वत देने से इनकार किया तो श्याम नारायण ने वेतन से कटी धनराशि जारी नहीं की। ज्ञानेंद्र ने इसकी शिकायत भ्रष्टाचार निवारण संगठन की वाराणसी इकाई से की। संगठन की ओर से इंस्पेक्टर सुरेंद्र नाथ दुबे को मामले की जिम्मेदारी सौंपी गई।

एंटी करप्शन की टीम बुधवार को गाजीपुर पहुंची और योजना के अनुसार ज्ञानेंद्र पांडे से दस हजार रुपये श्याम नारायण को भिजवाया। रुपये लेते ही एंटी करप्शन की टीम ने श्याम नारायण के पास से रुपये बरामद करते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया। सदर कोतवाली में उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराते हुए एंटी करप्शन कोर्ट में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Headlines arrested in Gazipur jail warder head warder arrested