DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गाजीपुर डीएम का घेराव करने जा रहे दिव्यांगों को रोकने पर हंगामा

गाजीपुर डीएम का घेराव करने जा रहे दिव्यांगों को रोकने पर हंगामा

मांगों और समस्याओं को लेकर डीएम के घेराव को निकले दिव्यांगों को पुलिस ने हंसराजपुर बाजार में रोक लिया। बहरियाबाद और शादियाबाद समेत कई थानों की फोर्स ने दिव्यांगों के समूह को गाजीपुर जाने से मना किया। तीखी तकरार के बाद अधिकारियों के साथ दिव्यांगजन चौकी पर पहुंचे और लंबी पंचायत चली। एसडीएम ने विकासखंडों के बीडीओ को अविलंब क्रियान्वयन के निर्देश दिए। वहीं प्रशासन स्तर पर सुलभ मांगों को पूरा करने का आश्वासन भी दिया। अन्य मांगों का पत्रक शासन को भेजे जाने की बात भी कही।

सोमवार को जनकल्याण विकलांग सेवा समिति और सर्व समाज विकास मंच निर्धारित कार्यक्रम के अनुरूप जखनियां से दिव्यांगों की भीड़ गाजीपुर के लिए रवाना हुई। कमलेश राम और रामविजय चौहान के नेतृत्व में दिव्यांगों को जिलाधिकारी कार्यालय धरना प्रदर्शन करने जाना था। हंसराजपुर बाजार में बहरियाबाद एवं शादियाबाद पुलिस ने सभी को रोक लिया और जिला मुख्यालय नहीं जाने का दवाब बनाने लगे, परन्तु दिव्यांग अड़ गये। जानकारी पाकर उपजिलाधिकारी जखनियां अभय कुमार मिश्रा और सीओ भुड़कुड़ा मौके पर पहुंचे और मामला संभालने की कोशिश की। विकलांग नहीं माने तो कई थानों की फोर्स मौके पर बुलाई और सभी को पुलिस चौकी हंसराजपुर ले जाया गया। चौकी पहुंचे विकलांगों ने हंगामा शुरू कर दिया और जमीन पर बैठ गए। उपजिलाधिकारी के बार बार निवेदन करने के बाद भी कई लोग कुर्सी पर नहीं बैठे।

वार्ता शुरू हुई तो दिव्यांगों ने प्रदेश एवं केन्द्र सरकार की योजनाओं में पारदर्शिता मांगी। योजनाओं जैसे आवास, शौचालय, प्रधानमंत्री जन आरोग्य आयुष्मान योजना, विकलांग कोटा के तहत विकलांगों को राशन न दिये जाने सहित मांगे एसडीएम अभय कुमार मिश्रा के सामने रखीं। एसडीएम ने जखनियां, मनिहारी और सादात के एडीओ पंचायत को बुलाकर इनकी संभव मांगों को तत्काल निस्तारण करने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी से मोबाइल से बात कर इनकी मांगपत्रो से अवगत कराया। जिलाधिकारी के बालाजी ने मुख्य विकास अधिकारी को इनका मांगपत्र देकर एक महीने के अंदर निस्तारण करने की बात कही। इसके बाद विकलांग एसडीएम से लिखित आश्वासन मांगने लगे तो एसडीएम ने निस्तारण का लिखित आश्वसन दिया। इसके बाद सभी घर को रवाना हुए।

इस दौरान कमलेश राम, रामविजय चौहान, मिना सिंह, शिवप्रसाद विश्वकर्मा, त्रिवेणी राम, घनश्याम चौहान, मंतीदेवी, हरेन्द्र चौहान, तेतरी देवी, दिनेश, फिरोज, मुन्नी लाल, सतीश, आदि विकलांग उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Happiness to stop the ghazals going on to cover Ghazipur DM