DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › गाजीपुर › शरणागत की रक्षा करते हैं ईश्वर : स्वामी अमरदास
गाजीपुर

शरणागत की रक्षा करते हैं ईश्वर : स्वामी अमरदास

हिन्दुस्तान टीम,गाजीपुरPublished By: Newswrap
Tue, 28 Sep 2021 03:30 AM
शरणागत की रक्षा करते हैं ईश्वर : स्वामी अमरदास

भांवरकोल। विकास खंड क्षेत्र के ग्रामसभा सियाड़ी के तिवारी का डेरा पुन्नीपुर में श्रीमद्भागवत कथा के पांचवें दिन श्रद्धालुओं को कथा सुनाते हुए महामंडलेश्वर अमर दास ने कहा कि भगवान कृष्ण पुरूषोत्तम हैं, इसलिए भगवान श्रीकृष्ण ने गोकुल और वृंदावन में भक्तों को सुख देने के लिए बाललीला विस्तार पूर्वक किया। उन्होंने पूतना वध की कथा सुनाते हुए कहा कि पूतना अज्ञान की स्वरूप है और भगवान ने पूतना को मार दिया अर्थात जीवन में अज्ञान आ जाए, तो अज्ञान को मारने में देर नहीं करनी चाहिए। भगवान श्रीकृष्ण की बाललीला का वर्णन करते हुए कहा कि ग्वाल बाल और गोपियां स्वयं चाहते हैं कि कृष्ण उनके पास आए और उनके साथ क्रीड़ा करे, तो भगवान भी भक्तों का भाव रखने के लिए ग्वाल बाल और गोपियों के साथ ब्रज की सुंदर लीलाओं को रचा। भगवान श्रीकृष्ण ने ऐसी बाललीला की रसखान की कि भक्त सभी सुख-ऐश्वर्य छोड़ वृंदावन आ गए और उन लीलाओं में शामिल हो गए। भगवान कृष्ण की लीलाओं में सात की छोटी सी अवस्था में सात साल के कन्हैया ने सात दिन तक लगातार गोवर्धन गिरिराज को उठाकर समस्त बृजवासियों की रक्षा की। कथा श्रवण के लिए स्थानीय क्षेत्रों मे अलावा आस-पास के गांवों से भी श्रद्धालु पहुंच रहे हैं।

संबंधित खबरें