DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गाजीपुर: एनसीसी कैडेटों को दिया फायरिंग का प्रशिक्षण

गाजीपुर: एनसीसी कैडेटों को दिया फायरिंग का प्रशिक्षण

पीजी कालेज में एनसीसी बटालियन 92 के चल रहे दस दिवसीय प्रशिक्षण के तीसरे दिन शुक्रवार को कैडेटों को फायरिंग व फायरिंग रेंज के संबंध में विस्ता से प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण शिविर में कैंप कमांडर कर्नल उमेश कुमार पंत रेंज कार्य विधि के विषय में बताते हुए कहा कि अच्छी फायरिंग के लिए निम्न चीजों की आवश्यकता पड़ती है। जिसमें एम्युनीशन टारगेट, टारगेट के रिपेयर का सामान, रेंज स्टैन्डिंग आडिट, फायरिंग प्वाइंट व रूट रजिस्टर तथा रेंज की सुरक्षा व्यवस्था होना आवश्यक है। इन सभी चीजों के विषय में जानकारी रखना सभी कैडेट को अति आवश्यक है। तभी जाकर अच्छी फायरिंग होगी और दुश्मन पर हम सफलता प्राप्त कर सकते हैं। किसी भी युद्ध की तैयारी के लिए अच्छी फायरिंग का होना आवश्यक है। पीजी कालेज के एनसीसी आफिसर डा.डीआर सिंह ने कैडेटों को फायरिंग के विषय में बताते हुए कहा कि एक अच्छी फायरिंग तथा उसकी सफलता के लिए रेंज ड्रिल तथा फायरिंग के समय अनुशासन बनाए रखना आवश्यक है। फायर करने वाले कैडेट तथा फायरिंग आफिसर व कोचों के बीच आपस में तालमेल रखना अति आवश्यक है। सूबेदार सुखराम यादव ने फायरिंग समाप्त होने की कार्रवाई को बताते हुए कहा कि फायरड हथियारों का मुलाइज तथा एम्युनीशन की गिनती अति आवश्यक होती है। इसके साथ साथ कैडेट को अपना रिजल्ट भी जानना अति आवश्यक है। इस मौके पर एनसीसी आफिसर सतीश राय, सूबेदार सुखराम, गुरुंग, हवलदार धर्मेन्द्र सिंह का विशेष सहयोग रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ghazipur: Training of firing given to NCC cadets