DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गाजीपुर: इफ्तार में शामिल हुए रोजेदार

गाजीपुर: इफ्तार में शामिल हुए रोजेदार

रेलवे स्टेशन बाजार निवासी फकरूद्दीन नियाजी के घर पर बुधवार की शाम मुस्लिम रोजेदारों ने अफ्तार के लिए बनायी गयी। रोजेदारों ने अलग अलग व्यंजनों का लुफ्त उठाया। यह सिलसिला माह ए रमजान के 30 दिनों तक इसी तरह अफ्तार करने के लिए तरह तरह की व्यजंन बनाकर रोजेदारों के सामने पेश की जाती है और रोजेदार उसे खाकर रोजा खोलते हैं। इस मौके पर फकरूद्दीन नियाजी ने कहा कि माह ए रमजान अल्लाह पाक का सबसे सुन्दर व पाक अच्छा महीना बताया गया है। इस पाक महीने में हर एक मुसलमान अल्लाह पाक को राजी करने व जाने व अंजाने में की गयी गलती को माफ कराने के लिए 30 दिन का रोजा रखते हैं। रोजे की हालत में झूठ से परहेज करने की हिदायत दी गयी है। कहा कि चाहे कितना भी भीषण गर्मी हो रोजेदारोंं को डिगा नहीं सकती। रोजा जहां हर मुसलमान पर फर्ज है, वही सहरी सुन्नत है। रमजान में अफतार का बहुत ही महत्तव है। दिनभर के भूखे प्यासे रोजेदार शाम को कई किस्म के व्यंजन, सरबत, खंजूर आदि लेकर बैठता है और रोजा खोलने के लिए अजान की इंतेहार करता है उस इंतेजार भी एक लज्जत होती है। रमजान में अफतार पार्टी का आयोजन जगह जगह पर किया जाता है। जिसमें रोजेदार सहित अन्य लोग शरीक होते है और एक साथ मिल बैठकर खाते है। इफतार लोगों के बीच मुहब्बत पैदा करने का भी एक जरिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ghajipur: Roshanard joined in Iftar