DA Image
11 जुलाई, 2020|2:14|IST

अगली स्टोरी

फसलों की कटाई के लिए नहीं मिल रहे कामगार

पांच स्थान पांच रिपोर्टर

गाजीपुर के किसान रबी की फसल की कटाई में परिवार के साथ लगे है। कोरोना वायरस के महामारी के चलते कटाई में देरी हो गयी है। शासन की ओर से कृषि से जुड़े संसाधन को आने जाने की छूट दे दी गयी है। वहीं किसान भी आपसी सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए नजर आ रहे है। किसानों को देशभर में लाक डाउन होने से सरसों, गेहूं, मटर आदि की कटाई में देरी हो गयी है। मार्च व अप्रैल का महिना में किसानों के लिए काफी अहम होता है।

जिले के किसान फसलों की कटाई के लिए युद्धस्तर पर लगे हुए है। वहीं कोरोना महामारी के चलते कामगार नहीं मिल रहे है। कामगार भी वायरस के संक्रमण के चलते कटाई करने में डर रहे है। वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना को लेकर केंद्र सरकार की ओर से पूरे देश में लॉकडाउन किया गया है। लेकिन किसान तैयार फसलों को जल्द से जल्द काटना चाहते है। वहीं मौसम के सुबह-शाम रंग बदलते रहने के कारण किसान परिवार के साथ मटर, तीसी, चना, गेहूं आदी कटाई करने में जुटे है। इनके कटाई के बाद किसान खेतों में मेथी की बोआई करते है, वहीं कई किसान ऑयल (पिपरमिंट) की रोपाई के लिए नर्सरी भी तैयार की है।