DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  गाजीपुर  ›  रेलवे स्टेशन के पास पतंग उड़ाने पर दर्ज होगा केस, लगेगा जुर्माना
गाजीपुर

रेलवे स्टेशन के पास पतंग उड़ाने पर दर्ज होगा केस, लगेगा जुर्माना

हिन्दुस्तान टीम,गाजीपुरPublished By: Newswrap
Wed, 30 Sep 2020 03:07 AM
रेलवे स्टेशन के पास पतंग उड़ाने पर दर्ज होगा केस, लगेगा जुर्माना

लॉकडाउन के बाद यात्रियों के लिए ट्रेनों का परिचालन का आगाज हो चुका है। यात्रियों की सुरक्षा और ट्रेनों के नियमित समयबद्ध संचालन के लिए रेलवे सतर्कता और सुरक्षा बरत रहा है। इस बीच रेलवे की ओर से नई गाइडलाइन जारी की गई है जिसमें पतंगबाजी पर सबसे ज्यादा निगरानी रखने के निर्देश हैं।

लॉकडाउन के बाद अब रेल रूट पर गुजरने के दौरान हर तरह की दुश्वारियों को दूर किया जा रहा है। गाइडलाइन में रेलवे के अधिकारियों के साथ साथ आरपीएफ और जीआरपी को सतर्कता और सजगता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। पतंगबाजी पर सबसे ज्यादा निगरानी रखते हुए दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने का भी निर्देश है। रेलवे की ओर से जारी पत्र में यात्री सुरक्षा और सविधाओं के क्रम में प्लेटफार्म, ट्रैक और ओएचई लाइन की सुरक्षा को प्राथमिकता पर रखा गया है। पतंगबाजी पर कड़ी निगरानी रखने के लिए आरपीएफ को रेलवे ट्रैक किनारे वाशिंदों को ट्रेनों की सुरक्षा को लेकर अवगत कराने की बात कही गई है। आरपीएफ को पतंगबाजी करते लोगों को पहले हिदायत देने और न मानने पर कार्रवाई के निर्देश हैं। गौरतलब है कि पिछले दिनों लखनऊ में ओएचई लाइन ट्रिप होने के बाद जांच के दौरान पतंग का मांझा फंसने की बात सामने आई थी। गाजीपुर सिटी स्टेशन आरपीएफ पोस्ट के प्रभारी निरीक्षक उदय राज ने बताया लॉकडाउन के चलते रेलवे ट्रेक और प्लेटफार्म खाली रहे। इस दौरान बच्चों के द्वारा पतंगबाजी आदि भी बात सामने आई जिससे ट्रेनों का संचालन में बाधा की संभावनाएं बरकरार हैं।

पतंग बन सकता है रेल संचालन में बाधक

आरपीएफ निरीक्षक ने बताया कि चाइनीज मांझे में लोहे का बुरादा होता है। जो ओएचई लाइन के दोनों तारों पर गिरते ही लाइन को ट्रिप कर देता है। पतंगों के चाइनीज मंझे में धातु से ओएचई लाइन में स्पार्किंग और पॉवरकट की संभावनाएं हैं। इसके चलते ही सुरक्षात्मक दृष्टिकोण से नए निर्देश जारी कर सतर्कता बरतने की बात कही गई है। आरपीएफ के अनुसार टीमें लगातार चेकिग अभियान चला रही है। आसपास की आवासीय कालोनियों में भी इसकी जानकारी दे दी गई है। रेलवे पतंगबाजी समेत कई विषयों पर सतर्कता बरत रहा है।

रूट पर पेट्रोलिंग और कैमरे से नजर

आरपीएफ इंस्पेक्टर उदय राज के अनुसार गाजीपुर सिटी स्टेशन के समूचे प्लेटफार्म और रिहायशी कालोनी तक आरपीएफ की टीमें लगातार गश्त करती हैं। प्लेटफार्म पर सुबह और शाम के समय आरपीएफ कर्मी सुरक्षा के नजरिए से पड़ताल करते हैं।वहीं सुबह और शाम को एएसआई और सिपाहियों की प्वाइंटवार डयूटी लगाई जा रही है। आबादी वाले इलाकों में होकर जो ट्रेन गुजरती है, वहां विशेष चेकिंग के आदेश दिए गए है। ट्रैक के आसपास कोई भी पतंगबाजी करते दिखे तो पहली बार चेतावनी और दूसरी बार मे उसके खिलाफ रेलवे एक्ट में मुकदमा दर्ज करने को कहा गया है।

संबंधित खबरें