अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीटीसी कालेज प्रबंधकों का धरना

स्ववित्तपोषित बीटीसी प्रबंधक एशोसिएशन के बैनर तले जिले के समस्त 242 स्ववित्तपोषित बीटीसी कालेजों के प्रबंधकों ने मंगलवार को सरजू पाण्डेय पार्क में धरना देकर आवाज बुलंद किया। चेतावनी दी कि जब तक जांच के आदेश को वापस नहीं लिया जाता तब तक पठन-पाठन ठप करके विरोध प्रदर्शन चलता रहेगा। 
 एससीईआरटी निदेशक द्वारा दिए गये जांच के आदेश के विरोध में हुए धरना सभा में प्रबंधक जमकर गरजे। धरना सभा की अध्यक्षता कर रहे स्ववित्तपोषित बीटीसी प्रबंधक एशोसिएशन के अध्यक्ष डा. मनोज कुमार सिंह ने कहा कि यह जांच सिर्फ धन उगाही के लिए और प्रबंधकों का उत्पीड़न करने के लिए होने वाला है। 
 वक्ता के क्रम में महामंत्री सत्यप्रकाश यादव, प्रबंधक पंकज दूबे, राकेश राय, सच्चेलाल यादव, गोपाल यादव, आनंद सिंह, जवाहर यादव, डा. विजय बहादुर यादव, उमेश यादव आदि ने एक सिरे से जांच का विरोध करते हुए कहा कि जनपद स्तरीय समिति द्वारा जांच के बाद डीएलएड की मान्यता एससीईआरटी लखनऊ व परीक्षा नियामक प्राधिकारी इलाहाबाद द्वारा दी गयी है। वक्ताओं ने कहा कि विगत दिनों डायट और जनपद स्तरीय अधिकारियों के जरिये मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा गया है। इसे संज्ञान में लेते हुए जब तक जांच का आदेश वापस नहीं लिया जाता तब तक अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी रहेगा। धरना में समस्त कालेजों के प्रबंधक जांच के विरोध में शिक्षण कार्य ठप करते हुए शामिल रहे। इस मौके पर प्रबंधक कन्हैया यादव, ओमप्रकाश राय, अजय शंकर राय, अटल सिंह, अच्युतानंद पाण्डेय, बंधन यादव, भुल्लन सिंह, विमल सोनकर, संजय कुशवाहा, आलोक यादव, विजय सिंह पप्पू, भिक्खू यादव, सुशील सिंह, विनीत सिंह, रामकेवल यादव, रमेश यादव, संजय राय आदि मौजूद रहे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BTC College Managers Strike