DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › गाजीपुर › मतदाता दिवस पर मतदान को किया जागरूक
गाजीपुर

मतदाता दिवस पर मतदान को किया जागरूक

हिन्दुस्तान टीम,गाजीपुरPublished By: Newswrap
Tue, 26 Jan 2021 03:03 AM
ग्यारहवां राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर जगह-जगह कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। स्कूलों व कालेजों से जागरूकता रैली निकाली गयी। साथ ही लोगों को श्लोगन के...
1 / 2ग्यारहवां राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर जगह-जगह कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। स्कूलों व कालेजों से जागरूकता रैली निकाली गयी। साथ ही लोगों को श्लोगन के...
ग्यारहवां राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर जगह-जगह कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। स्कूलों व कालेजों से जागरूकता रैली निकाली गयी। साथ ही लोगों को श्लोगन के...
2 / 2ग्यारहवां राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर जगह-जगह कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। स्कूलों व कालेजों से जागरूकता रैली निकाली गयी। साथ ही लोगों को श्लोगन के...

गाजीपुर। निज संवाददाता

ग्यारहवां राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर जगह-जगह कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। स्कूलों व कालेजों से जागरूकता रैली निकाली गयी। साथ ही लोगों को श्लोगन के माध्यम से संदेश दिया गया। शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों तक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसी क्रम में रायफल क्लब परिसर में सोमवार को भव्य रूप मनाया गया। अपर जिलाधिकारी विरा. राजेश कुमार सिंह ने फीता काटकर एवं दीप प्रज्ज्वलित कर इसका शुभारंभ किया। मुख्य विकास अधिकारी श्रीप्रकाश गुप्ता ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर लोगों व खासकर युवाओं को मतदान के लिए शपथ दिलाई। इसके पश्चात भारत निर्वाचन आयोग के मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा की ओर से लाईव प्रसारण के माध्यम से राष्ट्र के नाम संदेश प्रसारित किया गया।

मुख्य विकास अधिकारी श्रीप्रकाश गुप्ता ने कहा कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य देश के युवा वर्ग राजनीतिक प्रक्रिया से जुडे़ं। इसके लिए उन्हें सबसे पहले मतदाता बनना पडेग़ा। मतदाता बनने के लिए उनमें जागरूकता लाना जरूरी है। ऐसे प्रत्येक नागरिक व 18 वर्ष के उपर के युवा वर्ग जिनका मतदाता सूची में नाम दर्ज नहीं है वह मतदाता सूची में अपना नाम दर्ज करवाते हुए देश के महापर्व (मतदान) में भाग लें। देश के लोकतंत्र को मजबूत करें, जिससे एक अच्छी सरकार बन सके और देश उन्नतशील देशों की सूची में शामिल हो सके। उपजिलाधिकारी सदर अनिरूद्ध प्रताप सिंह ने कहा कि प्रत्येक नागरिक, युवा वर्ग जो 1 जनवरी को अपनी आयु 18 वर्ष पूर्ण कर चुके हैं वह अपना नाम अपने-अपने निवास क्षेत्र के मतदाता सूची में अनिवार्य रूप से दर्ज कराते हुए राजनीतिक प्रक्रिया में पूरी समझदारी के साथ सहभागी बनें। अपने पास-पड़ोस के लोगों को मतदान के लिए ऊर्जीकृत करते हुए प्रेरित करें, कि एक सुरक्षित वातावरण में जीना है तथा विकास की समस्त आवश्यकताओं को पूर्ण करना है, तो मतदान प्रक्रिया में आगे आना होगा। इसमें बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेना जरूरी है। तहसीलदार सदर मुकेश सिंह ने कहा कि हमारे पास एक अवसर है कि अपने मतों का सही उपयोग करते हुए एक बेहतर, जवाबदेह, जिम्मेदार, न्यायप्रिय, पारदर्शी तथा विकास करने वाली सरकार बनाते हुए अपने देश के लोकतंत्र को मजबूत बनायें। अपर जिलाधिकारी विरा. ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी आगन्तुकों के प्रति आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर नेहरू युवा केन्द युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार के तत्वावधान में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें जनपद के विभिन्न अंचलों से आये कलाकारों ने अपनी प्रस्तुति दी। कार्यक्रम का शुभारंभ राजकीय महिला महाविद्यालय की छात्राओं द्वारा नुक्कड नाटक, नेहरू युवा केन्द्र के वॉलेन्टियर, सादात के कलाकार सूबेदार स्नेही, बिरहा गायक जावेद खां की ओर से मतदाताओं में जागरूकता लाने के लिए गीत संगीत, के माध्यम से कार्यक्रम कराते हुए मतदाताओ को जागरूक किया गया। इस अवसर पर अपर सूचना अधिकारी राकेश कुमार, सहायक उद्योग अजय गुप्ता, नेहरू युवा केन्द्र के जिला युवा अधिकारी कपिल देव राम, नमामी गंगे के जिला परियोजना अधिकारी बृजेश श्रीवास्तव, सहायक निर्वाचन अधिकारी रेणुका सिंह, वरिष्ठ सहायक अभय शंकर मिश्रा एवं अन्य जनपदस्तरीय अधिकारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन नेहरू युवा केन्द्र के लेखा एंव कार्यक्रम सहायक सुभाष प्रसाद ने किया।

पहले मतदान फिर जलपान का दिया संदेश

गाजीपुर। मतदाता जागरूकता कार्यक्रम के पूर्व 18 वर्ष से उपर के बालक व बालिकाओं की ओर से शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में प्रभात फेरी निकाली गयी। जहां श्लोगन के माध्यम से जागरूकता का संदेश दिया गया, जैसे लोकतंत्र बचाना है, वोट देने जाना है, जन-जन का है यही पुकार, मतदान हमारा है अधिकार। लोकतंत्र सफल बनाना है, वोट देने जरूर जाना है। पहले मतदान फिर जलपान आदि का नारा देकर अर्ह मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक किया गया। राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी एवं अन्य अधिकारी ने उत्कृष्ट कार्य करने वाले विधान सभा के दो-दो बीएलओ, नेहरू युवा केन्द्र के वालेन्टियर लक्ष्मी मौया तथा विजय बहादुर निषाद (तैराक) को प्रशस्ति-पत्र तथा 18 वर्ष के उपर के प्ङ्घ

लूदर्स कान्वेंट और स्वामी सहजानंद से निकली रैली

गाजीपुर। राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर लूदर्स कान्वेंट बालिका इंटर कालेज और स्वामी सहजानंद स्नातकोत्तर महाविद्यालय में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। छात्र-छात्राओं को मतदान की शपथ दिलाई गई। इसके बाद मतदाता जागरूकता रैली निकाली गई। इसमें शामिल छात्र-छात्राएं लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करते हुए चल रहे थे। लूदर्स कान्वेंट बालिका इंटर कालेज की एनसीसी कैडेट्स (28 यू.पी.गर्ल्स बटालियन बीएचयू वाराणसी) की एनसीसी कैडेट्सों ने एनसीसी प्रभारी कैप्टन रीता सिंह के सानिध्य में मतदाता जागरूकता रैली निकाली। एक दिन के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक बनी आकांक्षा यादव ने वर्तमान जिला विद्यालय निरीक्षक डा. ओमप्रकाश राय और विद्यालय की प्रधानाचार्या सिस्टर अल्फोंसा की मौजूदगी में हरी झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। रैली ने नगर के विभिन्न मार्गों का भ्रमण किया। इस दौरान लोगों को मतदान के प्रति जागरूक किया गया। रैली को सफल बनाने में वरिष्ठ अध्यापक रामबचन, ज्ञान एवं सुनीत कौशल आदि का सहयोग रहा। उधर स्वामी सहजानंद स्नातकोत्तर महाविद्यालय में प्राचार्य डा. रविंद्र नाथ राय उपस्थित शिक्षकों, कर्मचारियों एवं छात्र-छात्राओं को मतदान करने की शपथ दिलाई। इस मौके पर उन्होंने कहां कि भारत में लोग भाग्यशाली हैं कि संविधान ने उन्हें संवैधानिक वयस्क मताधिकार प्रदान किया है। हमारा संविधान लागू होते ही बिना लिंग भाषा और धर्म के भेदभाव में सभी को मतदाता अधिकार मिला, लेकिन दुनिया के विकासशील देशों में महिलाओं को मताधिकार बहुत बाद में प्रदान किया गया। दुनिया को लोकतंत्र का पाठ पढ़ाने का दावा करने वाला इंग्लैंड महिलाओं को 1916 में जाकर मताधिकार प्रदान किया, जबकि विश्व का सबसे मजबूत लोकतंत्र अमेरिका ने महिलाओं को 1928 में मतदान का अधिकार दिया। सम्बोधन के पश्चात छात्र-छात्राओं ने जागरूकता रैली निकाली। रैली विकास भवन चौराहा, कचहरी परिसर होते हुए जिलाधिकारी आवास की तरफ से महाविद्यालय परिसर में आकर समाप्त हुई। इसमें शामिल छात्र-छात्राएं लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करते चल रहे थे। इस अवसर पर शिक्षक गायत्री सिंह, डा. विशाल सिंह, डा. निवेदिता सिंह, डा. विनय चौहान एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारी उपस्थित रहे। संचालन एनएसएस के कार्यक्रम अधिकारी डा. सन्ने सिंह ने किया। अंत में एनएसएस के कार्यक्रम अधिकारी डा. नितिन कुमार राय ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।

संबंधित खबरें