ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश गौरीगंजनिजी अस्पताल में इलाज के दौरान प्रसूता व बच्चे की मौत

निजी अस्पताल में इलाज के दौरान प्रसूता व बच्चे की मौत

निजी अस्पताल में इलाज के दौरान प्रसूता व बच्चे की मौत पीड़ित ने

निजी अस्पताल में इलाज के दौरान प्रसूता व बच्चे की मौत
हिन्दुस्तान टीम,गौरीगंजWed, 29 Nov 2023 04:55 PM
ऐप पर पढ़ें

निजी अस्पताल में इलाज के दौरान प्रसूता व बच्चे की मौत

पीड़ित ने पहले की शिकायत, बाद में हुआ समझौता

जगदीशपुर। संवाददाता

कोतवाली क्षेत्र के एक निजी अस्पताल में प्रसव के लिए भर्ती हुई महिला व उसके बच्चे की इलाज के दौरान मौत हो गई। पीड़ित परिजनों ने पुलिस को अस्पताल के विरुद्ध कार्रवाई करने के लिए तहरीर दी। लेकिन बाद में सुलह समझौता होने पर परिजन महिला व बच्चे के शव को अंतिम संस्कार के लिए घर ले गए।

जामो कोतवाली क्षेत्र के पूरे शुक्लन निवासी कालिका प्रसाद शुक्ल ने बीते 26 नवम्बर की शाम अपनी पत्नी ऊषा शुक्ला को प्रसव पीड़ा होने पर जगदीशपुर स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। 27 नवम्बर को डाक्टरों ने एक बच्चे का जन्म कराया। 28 नवम्बर की सुबह इलाज के दौरान बच्चे की मौत हो गई। वहीं शाम को प्रसूता की भी मौत हो गई। जिसके बाद कालिका प्रसाद ने पुलिस को तहरीर देकर आरोप लगाया कि डाक्टर व स्टाफ की लापरवाही से उनके बच्चे व पत्नी की मौत हुई है। वहीं इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक राकेश सिंह ने बताया कि उन्हें कोई तहरीर नहीं मिली। सूत्रों की मानें तो पीड़ित व अस्पताल प्रशासन के बीच सुलह समझौते के बाद परिजन जच्चा बच्चा का शव लेकर घर चले गए।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें