DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश गौरीगंजअमेठी-बचकर रहो सियासत से, सियासत मार डालेगी....

अमेठी-बचकर रहो सियासत से, सियासत मार डालेगी....

हिन्दुस्तान टीम,गौरीगंजNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 05:35 PM
अमेठी-बचकर रहो सियासत से, सियासत मार डालेगी....

संग्रामपुर। विशेषरगंज में युवा चेतना मंच ने स्व. सत्य नारायण पाण्डेय की स्मृति में डॉ. सुभाष चन्द्र इण्टरमीडिएट कॉलेज गोरखापुर विशेषरगंज में कवि सम्मेलन का आयोजन किया। जिसमें काव्य पाठ सुनकर श्रोता मंत्रमुग्ध हो गए। कार्यक्रम में 30 समाज सेवियों को सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम की शुरुआत मंच के अध्यक्ष ललित पाण्डेय तथा कार्यक्रम के आयोजक डॉ. देवमणि तिवारी ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर दीप प्रज्ज्वलन व माल्यार्पण कर किया। सुरेश शुक्ल नवीन ने वाणी वंदना करके कवि सम्मेलन की शुरुआत किया। वीर रस के कवि अंजनी अमोघ की कविता धरा से उठो गगन चूम लो, तिरंगे से लिपटा बदन चूम लो पर पूरा सदन तालियों से गूंज उठा। शायर अनूप प्रतापगढ़ी की शायरी बचकर रहो सियासत से, सियासत मार डालेगी को खूब सराहा गया। अभिजित त्रिपाठी की पंक्तियों हम अपनी फकीरी में बादशाहत से जिया करते हैं पर लोगों ने खूब तालियां बजाईं। सुरेश शुक्ल नवीन ने नरकंकाल की हास्य सुनाकर लोगों को लोटपोट कर दिया। सायरा डाक्टर फूलकली ने सुनाया भुलाओगे हमें कैसे कहानी नाम है मेरा। शिवभानु कृष्णा ने सुनाया पाक तू राख हो जाएगा। प्रीति पाण्डेय ने अपनी पंक्तियों से शहीद की पत्नी का दर्द बयां किया। वहीं अर्चना ओजस्वी की पंक्तियों बेखौफ लिखूं उन जख्मों को, जिनकी मैं हकदार नहीं पर लोगों ने खूब तालियां बजाईं। सरिता भालोटिया, अनिरुद्ध मिश्र, रश्मि रागिनी, रामबदन शुक्ल, चन्द्र प्रकाश मंजुल, सुधीर रंजन आदि ने भी काव्यपाठ किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ कवि हरिश्चंद्र ओझा मधुर ने की। कार्यक्रम में कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह, धर्मेन्द्र शुक्ला, डा. नरेन्द्र मिश्र, दिनेश तिवारी सहित काफी संख्या में लोग मौजूद रहे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें