DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  गौरीगंज  ›  अमेठी-शासन ने बढ़ाई खरीद की तिथि, क्रय केन्द्रों पर नहीं शुरू हो सकी गेहूं खरीद
गौरीगंज

अमेठी-शासन ने बढ़ाई खरीद की तिथि, क्रय केन्द्रों पर नहीं शुरू हो सकी गेहूं खरीद

हिन्दुस्तान टीम,गौरीगंजPublished By: Newswrap
Wed, 16 Jun 2021 08:31 PM
अमेठी-शासन ने बढ़ाई खरीद की तिथि, क्रय केन्द्रों पर नहीं शुरू हो सकी गेहूं खरीद

कांटा सत्यापन न होने से नहीं खरीदा जा सका गेहूं

सिर्फ विपणन केन्द्र अमेठी पर हुई खरीद, मंगलवार को हुआ था सत्यापन

कई क्रय केन्द्रों पर गेहूं लेकर पहुंचे किसान, सत्यापन के बाद खरीद का आश्वासन

अमेठी।

शासन ने गेहूं खरीद की तिथि एक सप्ताह बढ़ाते हुए अंतिम तिथि 22 जून कर दिया है। लेकिन कांटा सत्यापन न होने के चलते बुधवार को क्रय केन्द्रों पर खरीद नहीं शुरू हो सकी। सिर्फ विपणन केन्द्र अमेठी पर पुलिस सुरक्षा में खरीद जारी रही। यहां किसानों का आधार प्रमाणीकरण मंगलवार को ही हो गया था। वहीं अन्य क्रय केन्द्रों पर पहुंचे किसानों का गेहूं नहीं खरीदा जा सका। अधिकारियों ने कांटा सत्यापन के बाद गेहूं खरीदने की बात कही है।

इस बार शासन ने गेहूं खरीद के लिए एक अप्रैल से 15 जून तक की तिथि निर्धारित किया था। लेकिन अंतिम तिथि तक कई क्रय केन्द्रों पर सभी किसानों का गेहूं न खरीदे जाने की शिकायतें आ रही थी। जिसे संज्ञान में लेते हुए शासन ने खरीद की अंतिम तिथि बढ़ाकर 22 जून कर दिया। बुधवार को हिन्दुस्तान ने विभिन्न क्रय केन्द्रों का जायजा लिया। विपणन केन्द्र गौरीगंज पर दो किसान गेहूं लेकर बेंचने आए थे। विपणन निरीक्षक प्रमोद कुमार यादव ने बताया कि जवाहर भवन लखनऊ से कांटा बंद कर दिया गया था। जो अभी खुला नहीं है। कांटा खुलते ही गेहूं खरीदा जाएगा। उन्होंने बताया कि केन्द्र पर किसी किसान ने गेहूं बेंचने के लिए टोकेन नहीं लिया है। अगर कोई किसान गेहूं बेंचने आएगा तो उसका गेहूं खरीदा जाएगा। वहीं विपणन केन्द्र जामों, विपणन केन्द्र जगदीशपुर व विपणन केन्द्र मुसाफिरखाना पर भी दो-तीन किसान गेहूं बेंचने के लिए पहुंचे थे। लेकिन कांटा सत्यापन न होने के चलते खरीद नहीं हो सकी।

विपणन केन्द्र अमेठी पर हो रही थी खरीद

विपणन विभाग के अमेठी स्थित क्रय केन्द्र पर पुलिस सुरक्षा में गेहूं खरीद होती मिली। सुबह से तीन किसानों का गेहूं खरीदा जा चुका था। यहां सोमवार की शाम खरीद कर्मियों से कुछ किसानों द्वारा मारपीट करने से आक्रोशित कर्मचारियों ने मंगलवार को खरीद कार्य ठप कर दिया था। दोपहर बाद एसडीएम के समझाने बुझाने के बाद खरीद शुरू हुई थी। केन्द्र प्रभारी ने बताया कि जिन किसानों का सत्यापन मंगलवार को हो गया था और खरीद पूरी नहीं हो सकी थी, उनका गेहूं बुधवार को खरीदा जा रहा है।

कोट-

जवाहर भवन लखनऊ से कांटा सत्यापन न हो पाने के कारण बुधवार को खरीद नहीं की जा सकी। उम्मीद है कि शाम तक कांटा सत्यापन हो जाएगा। जिसके बाद गुरुवार से खरीद शुरू हो जाएगी। जो भी किसान गेहूं बेंचने क्रय केन्द्रों पर पहुंचेंगे, उनका गेहूं खरीदा जाएगा।

बीसी गौतम

जिला खाद्य विपणन अधिकारी अमेठी

संबंधित खबरें