DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  गंगापार  ›  खाली थी डॉक्टर की कुर्सी, वार्ड ब्वाय के भरोसे अस्पताल
गंगापार

खाली थी डॉक्टर की कुर्सी, वार्ड ब्वाय के भरोसे अस्पताल

हिन्दुस्तान टीम,गंगापारPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:30 PM
लालगोपालगंज के रेलवे फाटक के समीप स्थापित नवीन स्वास्थ्य केंद्र पर कुल छह स्टाफ की तैनाती है लेकिन गुरुवार दोपहर दो ही ड्यूटी पर मिले। डॉक्टर की...
1 / 2लालगोपालगंज के रेलवे फाटक के समीप स्थापित नवीन स्वास्थ्य केंद्र पर कुल छह स्टाफ की तैनाती है लेकिन गुरुवार दोपहर दो ही ड्यूटी पर मिले। डॉक्टर की...
लालगोपालगंज के रेलवे फाटक के समीप स्थापित नवीन स्वास्थ्य केंद्र पर कुल छह स्टाफ की तैनाती है लेकिन गुरुवार दोपहर दो ही ड्यूटी पर मिले। डॉक्टर की...
2 / 2लालगोपालगंज के रेलवे फाटक के समीप स्थापित नवीन स्वास्थ्य केंद्र पर कुल छह स्टाफ की तैनाती है लेकिन गुरुवार दोपहर दो ही ड्यूटी पर मिले। डॉक्टर की...

शृंग्वेरपुर। हिन्दुस्तान संवाद

लालगोपालगंज के रेलवे फाटक के समीप स्थापित नवीन स्वास्थ्य केंद्र पर कुल छह स्टाफ की तैनाती है लेकिन गुरुवार दोपहर दो ही ड्यूटी पर मिले। डॉक्टर की कुर्सी खाली मिली। अस्पताल के हालात इतना बदतर हैं कि लोग इलाज के लिए यहां आने से कतराते हैं। गांव के डॉक्टर के पास जाना उनकी मजबूरी है।

गुरुवार दोपहर इलाज के लिए आई 75 वर्षीया पार्वती देवी निवासिनी दनियालपुर को भी चिकित्सीय सुविधा मयस्सर नहीं हो सकी। अपनी बीमारी बताते हुए गिड़गिड़ाती वृद्धा को यहां से सिर्फ पैरासिटामाल ही मिल सका। बताया जाता है कि पीएचसी प्रभारी डॉक्टर अतुल श्रीवास्तव, संजय बरनवाल व फार्मासिस्ट राजेश मौर्य की कोविड-में ड्यूटी लगी है। यह अस्पताल डॉक्टर के बिना ही वार्डब्वय के भरोसे चल रहा है। लैब टेक्नीशियन आशुतोष त्रिपाठी आ रहे एक दो लोगों की कोविड-19 की जांच करते नजर आए।

संबंधित खबरें