DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संशोधित-सिविल सेवा परीक्षा में घूरपुर के लाल का चयन

देश की सबसे बड़ी सिविल सेवा परीक्षा में इलाके के सारंगापुर गांव मयंक मिश्र के चयन से गांव सहित आसपास के इलाके में खुशी का माहौल है। सारंगापुर में तो बुधवार के दिन से युवाओं ने पटाखा फोड़ खुशियां मनाई और साथ ही लोगों ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर बधाई दी। घूरपुर के सारंगापुर गांव के मूल निवासी डॉ राकेश मिश्र रीवा मध्य प्रदेश पशुपालन विभाग में उपसंचालक के पद पर कार्यरत हैं। पत्नी रेवा मिश्रा माध्यमिक शिक्षिका हैं। रीवा में नौकरी के साथ साथ डॉ राकेश मिश्र का गांव से बहुत लगाव है। एक भी दिन की छुट्टी हुई तो वो गांव में ही बिताने के लिए आ जाया करते हैं। डॉ राकेश का छोटा बेटा प्रतीक आईआईटी कानपुर से बीटेक करने के बाद इन दिनों इंडोनेशिया में कार्यरत है। वहीं बड़ा बेटा मयंक मिश्र 23 जो रीवा से बीटेक करने के बाद मोतीलाल नेहरू इंजीनियरिंग कॉलेज इलाहाबाद से एमटेक किया। इसी बीच इलाहाबाद में ही उसे आईएएस बनने का अंकुर दिल में अंकुरित हुआ। मयंक ने अपने पिता डॉ राकेश मिश्र से तैयारी करने के बारे में चर्चा की तो पिता के दिल में एक बहुत बड़ा सपना दिखाई दिया। कोचिंग करने से कर दिया था इंकार मयंक ने पिता डॉ. राकेश कुमार से आईएएस की तैयारी की बात की। पिता ने उससे आईएएस की कोचिंग की बात तो की उसने मना कर दिया। कहा-वह घर पर ही रहकर तैयारी करेगा। शिक्षा से जुड़ी मां रेवा मयंक को हमेशा पढ़ाई पर ध्यान देने की बात करती लेकिन मयंक केवल रात में ही पढ़ाई करता। मयंक ने सन् 2016 की आईएएस की परीक्षा में भाग लिया और जब परिणाम आया तो उसकी पोजीशन 379 रैंक रही। परिणाम की सूचना पर फूटे पटाखे, हुआ नृत्य मयंक की सफलता की सूचना जैसे ही उसके गांव सारंगापुर गांव पहुंची गांव के युवाओं में एक नई उर्जा का संचार हो गया। युवाओं ने गाजे बाजे की धुन पर नाचते हुए पटाखे फोड़े और एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशियां बांटी। मयंक के रिस्ते के चाचा शरद कुमार मिश्र ने बताया कि मयंक शुरू से ही प्रतिभावान व मेधावी होने के साथ साथ अंर्तमुखी स्वभाव का है, उसे सिविल सेवा परीक्षा और देश की सेवा करने की शुरू से ही ललक थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Selection of the Mayank of Ghorpur in Civil Services Examination, Happiness