DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मांडा खास व चिलबिला में सफाईकर्मी नहीं, गंदगी

मांडा खास व चिलबिला में सफाईकर्मी नहीं, गंदगी

मांडा ब्लॉक के दो सबसे बड़ी ग्राम पंचायत मांडा खास व चिलबिला में सफाईकर्मी नहीं हैं। इसकी वजह से ब्लॉक मुख्यालय वाला गांव मांडा खास में ही जगह-जगह गंदगी व्याप्त है। चिलबिला का तो और बुराहाल है। यहां नालियां बजबजा रही हैं।

मांडाखास में कुल लगभग दस हजार मतदाता हैं। ग्राम पंचायत में नियुक्त दो सफाईकर्मी पिछले कई महीने से लापता हैं। इसी तरह क्षेत्र का दूसरा प्रमुख बाजार चिलबिला भी कई महीने से सफाईकर्मी के अभाव में चल रहा है। चिलबिला ग्राम पंचायत के प्रधान गणेश प्रसाद सिंह ने कई बार विभागीय अधिकारियों को सफाईकर्मियों की लापरवाही के बारे में अवगत कराया, लेकिन अब तक चिलबिला ग्राम पंचायत को सफाईकर्मी नहीं मिल पाये। चिलबिला पूर्व माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक राजेश सिंह यादव ने भी सफाईकर्मियों की कमी के चलते साफ सफाई न हो पाने के बारे में बीआरसी व ब्लॉक को सूचना दी, लेकिन विद्यालयों की सफाई भी अधर में पड़ी हुई है। मांडाखास में ब्लॉक, थाना, बीआरसी, सीएचसी, गोदाम, कई विद्यालय होने के बावजूद सफाई के अभाव में नालियां बजबजा रही हैं। मामले में जब एडीओ पंचायत प्रसिद्धनारायण ओझा से बात की गई, तो उन्होंने बताया कि गायब सफाईकर्मियों की जानकारी उच्चाधिकारियों को दे दी गई है। सफाईकर्मियों का अविलम्ब दोनों ग्राम पंचायतों में समायोजन किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Manda Khaas and Chilbila villiage not cleaner dirt