DA Image
5 दिसंबर, 2020|5:24|IST

अगली स्टोरी

कोरोना का भय : बिना सेना के राम-रावण का हुआ युद्ध

कोरोना का भय : बिना सेना के राम-रावण का हुआ युद्ध

सहसों का ऐतिहासिक रामलीला तथा दशहरा मेला इस वर्ष कोरोना संक्रमण के चलते नहीं कराने का निर्णय लिया गया। पूर्णिमा के दिन भगवान राम की झांकी निकाली गई। सूर्यास्त के पूर्व रामलीला मैदान में बिना सेना के भगवान राम और रावण का युद्ध हुआ तथा बुराई पर अच्छाई की जीत हुई।

कोरोना रूपी महामारी के रूप में रावण के पुतले का दहन किया गया। इस दौरान उपस्थित लोगों ने जय श्री राम के उद्घोष किया। भगवान राम लक्ष्मण के ऊपर पुष्प वर्षा करते हुए माल्यार्पण कर उनकी आरती उतारी गई। विजय श्री के पश्चात भगवान राम का दल रामलीला स्थल सहसों बाजार पहुंचा, जहां पर भरत मिलाप का भावपूर्ण मंचन किया गया। भगवान राम, आदर्श भाई भरत से मिलकर निहाल हो गए। उपस्थित लोगों ने इस भावपूर्ण प्रेम प्रस्तुति को देखकर खुशी से झूम उठे। दर्शकगण भावुक होकर भगवान राम, लक्ष्मण, भरत, शत्रुघ्न व माता सीता एवं हनुमान जी की जय जयकार से पूरा पंडाल गुंजायमान हो उठा। उपस्थित कमेटी के पदाधिकारियों ने भगवान राम सहित सभी भाइयों की आरती उतारी। इस दौरान कमेटी के पदाधिकारियों में प्रबंधक मनोज त्रिपाठी, निर्देशक शिव बाबू केसरवानी, लाल चंद गुप्ता, राजेश केसरवानी, राकेश गुप्ता, रंजीत, अंकित केसरवानी, कोषाध्यक्ष निखिल त्रिपाठी, नितिन त्रिपाठी, राजेश सिंह ,नरेंद्र केसरवानी, फूल चंद्र, राम गोपाल,गणेश केसरवानी, विष्णु केसरवानी, शुभम, सुमित, उमेश, अंशु केसरवानी सहित आदि उपस्थित रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Fear of Corona Ram-Ravana war without army