DA Image
17 सितम्बर, 2020|4:15|IST

अगली स्टोरी

पिंडदान, श्राद्ध और तर्पण के बाद पितरों की विदाई

पिंडदान, श्राद्ध और तर्पण के बाद पितरों की विदाई

विकास खंड क्षेत्र उरुवा के विभिन्न गंगा घाटों पर गुरुवार को पितृ विसर्जन के दिन पितरों के निमित्त पिंडदान, श्राद्ध तथा तर्पण करने वालों की भारी भीड़ जुटी। सिरसा गंगा घाट, छतवा, बिजौरा, पकरी घाट, परानीपुर घाट, मदरा मुकुंदपुर घाट, परवा घाट, कोठरी एवं नरवर चौकठा के गंगा घाटों पर दूर-दराज से पहुंचे लोगों ने पिंडदान, श्राद्ध तथा तर्पण किया।

सुबह से लेकर शाम तक गंगा किनारे पहुंचे लोगों ने पिंडदान करने से पहले अपने सिर मुड़वाए तथा स्नान कर पिंडदान, श्राद्ध एवं तर्पण किया। पिंडदान, तर्पण करने के बाद वापस घर पहुंचकर लोगों ने घर में बने व्यंजन कढ़ी, चावल, बड़ा, फुलौरी, पूरी, सब्जी तथा खीर आदि कई प्रकार के भोजन का भोग लगाकर पितरों (पुरखों) को विदा किया। इसी के साथ आश्विन मास के प्रथम पक्ष की समाप्ति हो गई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Farewells of ancestors after Pindadan Shraddha and Tarpan