Dowry murder - बोलेरो नहीं देने पर विवाहिता को पीटकर मार डाला DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बोलेरो नहीं देने पर विवाहिता को पीटकर मार डाला

दहेज हत्या में पति समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। यह कार्रवाई कोर्ट के आदेश पर की गई। घटना 29 मार्च को हुई थी।

थाना क्षेत्र के सांड़ी गांव निवासी मेवालाल बिंद ने अदालत में 156/3 के तहत प्रार्थना देकर बताया कि वह लेखपाल है। बस्ती जिले में कार्यरत हैं। उन्होंने अपनी बेटी आरती की शादी 14 मई 2017 को मिर्जापुर जनपद के जिगना थाना अंतर्गत रुदई का पूरा गांव निवासी रामदास के साथ की थी। शादी में लगभग पांच लाख रुपये खर्च किया था। आरोप है कि शादी के बाद ससुराल में पति रामदास, ससुर रामेश्वर, देवर श्रीराम व सास बैजंती देवी दहेज में बोलेरो लाने की मांग करने लगे। पूरी न करने पर उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। इसकी सूचना कई बार बिरादरी पंचायत में भी की गई। लेकिन प्रताड़ना बंद नहीं हुई। आरोप है कि 29 मार्च 2018 को आरती को ससुरालियों ने जमकर पीटा। आरती गर्भवती थी। उसे नाजुक हालत में इलाहाबाद के एक प्राइवेट अस्पताल में उसे ले जाया गया। चोटें ज्यादा होने के कारण मौत हो गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी छाती, मस्तक और दाहिने हाथ में चोटें आई हैं। मेवालाल का आरोप है कि उन्होंने मांडा थाने से लेकर पुलिस उच्चाधिकारियों को प्रार्थना पत्र दिया, लेकिन मुकदमा नहीं दर्ज किया गया। अदालत के आदेश पर आरोपियों के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dowry murder