DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सैदाबाद में राजगीर की पत्नी ने लगाई फांसी, मौत

सैदाबाद में राजगीर की पत्नी ने लगाई फांसी, मौत

पति को काम पर भेजकर विवाहिता ने कमरे में फांसी लगा ली। उसकी दुधमुंही बच्ची रोना शुरू की तो परिजन उसके कमरे में पहुंचे। नजारा देखकर शोर मचाया।

हंडिया के धोकरी गांव निवासी शिवकुमार शौचालय बनाने का काम करता है। हर दिन की तरह वह बुधवार सुबह भी शौचालय बनाने के लिए जरूरी सामान को लेकर चला गया। परिजनों ने बताया कि सीमा ने पति शिवकुमार को खाना खिलाकर काम पर भेजा। इसके बाद वह अपने कमरे में चली गई। बुधवार दोपहर दुधमुंही बच्ची के रोने की आवाज सुनकर उसकी चौदह वर्षीय बुआ अर्चना उसके कमरे में गई। नाजारा देख वह अवाक रह गई। सीमा फांसी पर लटकी हुई थी।

छप्परनुमा घर में उसने रस्सी के सहारे फांसी लगा ली जिसके कारण उसकी मौत चुकी थी। मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। सीमा के मायके सरायंममरेज थानाक्षेत्र के कटहरा गांव दी गई। लेकिन शाम चार बजे तक परिजन नहीं आए। उन लोगों का मोबाइल भी स्विच आफ बताने लगा। इंतजार के बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

मां को खोजता रहा अमन

सीमा की शादी छह साल पहले हुई। उसे एक चार साल का बेटा अमन व छह माह की बेटी है। दुधमुंही बच्ची तो मां की मौत से अनजान है लेकिन चार साल का मासूम बेटा अमन भी कुछ नहीं समझ पाया। जब तक शव था बेटा अमन उसे देखकर ही पूछता यह कौन है। जब शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया तो वह घर में व बाहर मां की तलाश करता रहा। नम आंखों से परिजन उसे बहलाने फुसलाने में लगे रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Allahabad : Rajgir wife hanged, hanged in Saidabad