DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चालक की हत्या व पिस्टल छीनने वाले भेजे गए जेल, दो दरोगा सहित चार पुलिसकर्मी निलंबित

विक्रम पलटने के बाद चालक की पीटकर हत्या और पुलिस पर पथराव यूपी 100 के दरोगा से पिस्टल छीनने के आरोपित मंगलवार को जेल भेज दिए गए। विक्रम चालक को अस्पताल न भेजकर थाने पहुंचाने पर खीरी थाना के दो दरोगा, मुंशी और सिपाही निलंबित कर दिए गए।

बहरैचा गांव निवासी जगजाहिर आदिवासी विक्रम पर सवारी बैठाकर लेड़ियारी बाजार की ओर जा रहा था। रात नौ बजे विक्रम खपटिहा गांव के सामने पलट गया। उसमें सवार आधा दर्जन यात्री जख्मी हो गए। इससे नाराज गांववालों ने विक्रम चालक को जमकर पीटा था। उसे अचेतावस्था में खीरी थाने पहुंचा दिए थे। कुछ देर में उसकी मौत हो गई थी। पुलिस उसे लेकर बहरैचा गांव पहुंची और उसके दरवाजे पर शव उतारकर लौट आई थी। इससे नाराज दर्जनों ग्रामीण रात दस बजे खीरी थाने पहुंचे और पथराव शुरू कर दिया था। मौके से थाने के दरोगा सिपाही तो भाग लिए थे। यूपी 100 पुलिस टीम पहुंची तो भीड़ ने दरोगा की पिस्टल छीन ली थी। मामले में पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया था। सीओ मेजा के अलावा एसएसपी, एसपी गंगापार रातभर मामले की छानबीन में जुटे थे। सोमवार सुबह कैथवल गांव के मान सिंह खीरी थाने पहुंचकर पुलिस को पिस्टल सौंप दी थी। पुलिस ने उसी समय उसे थाने में बैठा लिया था। इसके अलावा सूर्य प्रताप पु्त्र विजय राज व विजय सिंह पुत्र रामचन्द्र ग्राम बहरैचा, रामसुमेर पुत्र रामजग और ननकऊ को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था। इन सभी को मंगलवार को जेल भेज दिया गया।

खीरी थाने के दो दरोगा सहित चार निलंबित

घायल चालक जगजाहिर को खपटिहा गांव के लोगों द्वारा मारे पीटे जाने के उपरांत मौके पर पहुंचे आरक्षी द्वारा अस्पताल के बजाय थाने पहुंचाने के आरोप में खीरी थाने में तैनात उपनिरीक्षक रोहित कुमार, उपनिरीक्षक सुभाष चंद्र यादव, हेड मुहर्रिर गोविंद तिवारी, कांस्टेबल मुहर्रिर रविंद्र कुमार को निलंबित कर दिया गया। एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि यदि समय रहते अस्पताल भेजा गया होता तो उसकी जान बचाई जा सकती थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Allahabad : Four policemen suspended, including two cartridges for killing driver, snatching pistol