अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हथेली पर रचाया पिया का नाम, रखा निर्जला व्रत

हथेली पर रचाया पिया का नाम, रखा निर्जला व्रत

अखंड सौभाग्य के लिए सुहागिनों ने हरितालिका तीज का व्रत बुधवार को रखा। एक दिन पूर्व मंगलवार की शाम को सुहागिनों ने अपने अपने पिया के नाम की मेहंदी अपने हाथों की हथेली पर रचाया। साथ ही साथ कुमारी कन्याओं ने भी हथेलियों पर मेहंदी रचाई।

बुधवार को भोर में मौन स्नान कर व्रत का संकल्प लिया। दिनभर निर्जला व्रत रहकर अपने-अपने पिया के अखंड सौभाग्य के लिए सुहागिनों ने घरों में मंदिरों में भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए प्रार्थना की। कुंभ व मीन लग्न में गंगा स्नान कर भगवान शिव और मां पार्वती की मूर्ति चौकी पर रखकर पूरब की ओर मुख करके उनके निमित्त लाल चूड़ी, सिंदूर, नींबू, खीरा, पान, सुपारी, फल, फूल आदि चढ़ाकर पूजा पाठ कर पतियों के अखंड सौभाग्य को मांगा। इसके अलावा कुमारी कन्याओं ने अच्छे वर की प्राप्ति के लिए भगवान शिव और माता पार्वती की विधि विधान से पूजा अर्चना की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Allahabaad Rachaya Piya name on the palm kept the Nirjala vrat