DA Image
21 जनवरी, 2021|8:01|IST

अगली स्टोरी

स्वरोजगार से महिलाएं खुद की बना रहीं पहचान

default image

सहायता समूह की महिलाओं के लिए दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन हिमायूंपुर में संपन्न हुआ। राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अंतर्गत गठित स्वयं सहायता समूहों के लिए संदर्भ संस्था प्रेम हेल्प एंड डेवलपमेंट सोसाइटी की ओर से आयोजित प्रशिक्षण का शुभारंभ डूडा के परियोजना अधिकारी एसबी राजपूत ने किया।

राजपूत ने कहा कि गरीब महिलाएं अब आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ चली हैं वे अपने स्वरोजगार के माध्यम से अपनी खुद की पहचान बना रही हैं। सरकार द्वारा उन्हें प्रोत्साहित भी किया जा रहा है। शहरी आजीविका मिशन के अंतर्गत गठित 07 स्वयं सहायता समूहों करौली देवी, हंसवाहिनी, सर्वजन महिला, सीमा महिला, जहारवीर महिला, मां सरस्वती महिला एवं गुनगुन महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने प्रतिभाग किया। समूहों को विभागीय योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता के रूप में रिवाल्विंग फंड दिया जा चुका है उन्हें आय सृजित गतिविधियों से अवगत कराया एवं उनको आय सृजित कार्य करने के लिए बैंक लिंकेज प्रस्ताव बैंक के लिए तैयार कराया। इस दौरान शहर मिशन प्रबंधक विनोद त्रिपाठी व शुभम गुप्ता, कम्युनिटी ऑर्गेनाइजर पंकज कुमार, शहर समन्वयक दुर्गेश कुमार आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Women are making their own identity through self-employment