DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फोटोयुक्त पर्ची से मतदाता इस बार नहीं डाल सकेंगे वोट

आगामी लोकसभा चुनाव में फोटोयुक्त मतदाता पर्ची को पहचान पत्र के विकल्प के रूप में स्वीकार नहीं किया जाएगा। संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डा.अल्का वर्मा ने वोटर कार्ड के 11 विकल्प दिए हैं। हालांकि पिछले चुनाव में फोटोयुक्त मतदाता पर्ची को पहचान पत्र के रूप में स्वीकार किया गया था।

पिछले चुनाव में मतदाता पर्ची को फोटोयुक्त बनाने के आदेश का अनुपालन कराने के बाद उसे वोटर आईडी का वैकल्पिक दस्तावेज भी मान लिया था। लेकिन इस दफा आयोग ने फोटोयुक्त मतदाता पर्ची को वैकल्पिक दस्तावेज के रूप में स्वीकार नहीं किया जाएगा। हालांकि फोटोयुक्त मतदाता सूची के साथ ही फोटोयुक्त मतदाता पर्ची आगामी लोकसभा चुनाव में जारी की जाएंगी। आयोग ने फोटोयुक्त वोटर पर्ची की छपाई इस दफा भी कराने के लिए निर्देशित किया है। लेकिन आयोग ने इस दफा फोटोयुक्त वोटर पर्ची का प्रयोग जागरूकता बढ़ाने में करने के निर्देश दिए हैं। फोटोयुक्त मतदाता पर्ची केवल सूची में नाम मिलान करने के काम आएगी। मतदान के लिए जते समय मतदाता को अपने साथ वोटर कार्ड अथवा आयोग द्वारा दिए गए 11 विकल्प में से एक दस्तावेज अनिवार्य रूप से रखना होगा।

आयोग ने दिए यह 11 विकल्प

1- पासपोर्ट, 2-ड्राइविंग लाइसेंस, 3-राज्य, केंद्र सरकर के लोक उपक्रम, पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा अपने कर्मियों को जारी फोटो पहचान पत्र, 4-बैंक, डाकघरों द्वारा जारी फोटोयुक्त पासबुक, 5-पैनकार्ड, 6-आरजीआई द्वारा जरी स्मार्टकार्ड, 7-मनरेगा के जॉबकार्ड, 8-श्रम मंत्रालय की योजना के तहत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, 9- फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, 10-सांसद, विधायक एमएलसी को जारी सरकारी पहचान पत्र , 11-आधार कार्ड।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Votes can not be cast from photo-slip this time