DA Image
6 अप्रैल, 2020|12:25|IST

अगली स्टोरी

सीएम के मुंह से गोली की बात शोभा नहीं देती: शिवपाल

default image

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने मुख्यमंत्री की गोली की भाषा पर कड़ा ऐतराज जताया। कहा कि हमारे मुख्यमंत्री साधु-संत हैं। उन्हें ऐसी बात नहीं कहना चाहिए। साधू के मुंह से ऐसी बोली शोभा नहीं देती।

प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मंगलवार को जिला कारागार में बंद पार्टी के जिला अध्यक्ष अजीम भाई से मुलाकात करने पहुंचे। उन्होंने जेल के अंदर जाकर अजीम की कुशल क्षेम जानी। शिवपाल ने बताया कि यूपी में कानून व्यवस्था बेहाल हो चुकी है। पुलिस का इकबाल समाप्त होता जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री को सुधारने की बात करनी चाहिए। न कि ऐसा बोलना चाहिए कि जो बोली से नहीं मानेगा वह गोली से मानेगा। दिल्ली में शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ धरना-प्रदर्शन पर कहा कि इसके लिए केंद्र की भाजपा सरकार जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि भाजपा व संघ से जुड़े लोग गोली चलवाते हैं।

यूपी में पीएफआई के सदस्यों की हो रही गिरफ्तारी पर शिवपाल ने कहा कि लोकतंत्र में प्रोटेस्ट करने का अधिकार सभी को है। जब सरकार कोई नया कानून बनाती है तो जनता की राय लेनी चाहिए। विरोधी दलों से भी सलाह मशवरा करना चाहिए। लेकिन नागरिकता संशोधन कानून पास कराने के वक्त ऐसा नहीं किया गया। इसी से लोगों में गुस्सा पनप रहा है। इस दौरान सिरसागंज विधायक हरिओम यादव, पूर्व ब्लाक प्रमुख मीना राजपूत, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष विजय प्रताप सिंह, प्रसपा लोहिया वाहिनी जिलाध्यक्ष इंजीनियर राजकुमार यादव आदि मौजूद रहे।

जेल में अंदर जाने को लेकर हुई धक्का-मुक्की

प्रसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ अनेक कार्यकर्ता जिला कारागार के अंदर घुसने लगे। तभी जेल के मुख्य गेट पर तैनात सुरक्षा कर्मियों की कार्यकर्ताओं के साथ धक्का-मुक्की हो गई। सुरक्षा कर्मी उन्हें जेल के अंदर नहीं जाने दे रहे थे। लेकिन कार्यकर्ता जबरन जेल के भीतर जाने की कोशिश कर रहे थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The bullet does not suit CM s mouth Shivpal