DA Image
9 फरवरी, 2021|5:47|IST

अगली स्टोरी

किसान आंदोलन को लेकर अधिकारी असमंजस में

default image

किसानों द्वारा 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली निकलाने को लेकर जनपद का पुलिस प्रशासन असमंजस की स्थिति में आ गया है। एक ओर किसान संगठनों को मनाने के लिए वार्ता कर ली लेकिन उनका रुख अभी तक नहीं भांप पाने से सुरक्षा को कड़ा कर दिया है।

फिरोजाबाद में फिरोजाबाद शहर, टूंडला, नारखी, एका, जसराना, फरिहा, नगला बीच आदि क्षेत्रों में किसान यूनियन के पदाधिकारी काफी हैं। इसके बाद भी पूरे जनपद में किसानों की यूनियन को लेकर वार्ता की गई। पदाधिकारियों को बुलाकर, फोन से बात करके तहसील स्तर पर मनाने का प्रयास चला। पुलिस सोमवार को भी नहीं समझ पाई कि किसान नेताओं की रणनीति क्या हो सकती है। कहीं वे खेतों में ट्रैक्टर ट्राली लेकर जाने की कहकर मार्गों पर एकत्रित नहीं हो जाएं। अलग-अलग जगहों से आकर एक साथ प्रदर्शन न कर दें। इसे लेकर फिरोजाबाद, शिकोहाबाद, जसराना, टूंडला और सिरसागंज में थानों और तहसील स्तर पर सतर्कता बरती जा रही है।

वहीं पुलिस द्वारा हाईवे के दोनों टोल टूंडला और कठफोरी से ट्रैक्टरों की एंट्री पर नजर रखी जा रही है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर जाने वाले ट्रैक्टर भी प्रदर्शन को लेकर चैकिंग करके गुजारे जा रहे हैं। एसएसपी अजय कुमार पांडेय ने बताया कि किसान प्रदर्शन को लेकर जनपदभर में पुलिस टीमें सतर्क हैं। हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। टोल टैक्स और एक्सप्रेसवे के साथ हर मार्ग पर पुलिस बल तैनात है ताकि आमजन को कोई परेशानी नहीं आए।

ट्रैक्टर रैली में सपा भी उतरी

फिरोजाबाद। सपा हाईकमान के आदेश के बाद किसानों की ट्रैक्टर रैली में समाजवादी पार्टी भी 26 जनवरी को भाग लेगी। इसको लेकर सपा नेताओं द्वारा लगातार जनसंपर्क किया गया। जसराना क्षेत्र में विधानसभा चुनाव लड़ चुके सपा नेता शिव प्रताप सिंह यादव खैरगढ़ क्षेत्र में सुबह 11 बजे रैली निकालेंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Officer confused about farmer movement